लेखक परिचय

तेजवानी गिरधर

तेजवानी गिरधर

अजमेर निवासी लेखक तेजवानी गिरधर दैनिक भास्कर में सिटी चीफ सहित अनेक दैनिक समाचार पत्रों में संपादकीय प्रभारी व संपादक रहे हैं। राजस्थान श्रमजीवी पत्रकार संघ के प्रदेश सचिव व जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान के अजमेर जिला अध्यक्ष रह चुके हैं। हाल ही अजमेर के इतिहास पर उनका एक ग्रंथ प्रकाशित हो चुका है। वर्तमान में अपना स्थानीय न्यूज वेब पोर्टल संचालित करने के अतिरिक्त नियमित ब्लॉग लेखन भी कर रहे हैं।

Posted On by &filed under विविधा.


तेजवानी गिरधर

कोयला घोटाले को लेकर रविवार को देश की राजधानी दिल्ली में हुए आईएसी के प्रदर्शन को भले ही टीम केजरीवाल का आंदोलन माना जा रहा हो, जो कि वाकई उनके ही नेतृत्व में हुआ और अन्ना हजारे कहीं नजर नहीं आए, मगर उसे उनका आशीर्वाद जरूर हासिल हुआ। अन्ना हजारे ने बाकायदा अपने ब्लॉग अन्ना हजारे सेज पर सभी क्रांतिकारियों को बधाई दी है।

असल में कोयला घोटाले के मामले में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह व भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी के निवासों पर प्रदर्शन की घोषणा से लेकर रविवार को हुए प्रदर्शन तक अन्ना हजारे की चर्चा कहीं पर भी नहीं थी। ऐसा माना जा रहा था कि टीम अन्ना भंग करने के बाद अन्ना हजारे मायूस हो कर एकांतवास में चले गए हैं। प्रदर्शन में अन्ना हजारे की भूमिका नगण्य होने का प्रमाण यही है कि प्रदर्शनकारियों के सिर पर मैं अन्ना हूं वाली टोपियां नदारद थीं। कुछ कार्यकर्ताओं ने तो मैं केजरीवाल हूं वाली टोपी लगा रखी थी। दिन भर इलैक्ट्रॉनिक मीडिया भी इसका बार-बार उल्लेख कर रहा था कि अन्ना हजारे का कहीं अता-पता नहीं है। मगर शाम होते-होते अन्ना हजारे से रहा नहीं गया। प्रदर्शन के कामयाब होने पर उन्होंने ब्लॉग लिख ही डाला।

आइये, देखते हैं कि उन्होंने अपने ब्लॉग पर क्या लिखा है:-

सभी क्रांतिकारियों को बधाई

दिनांक 26 अगस्त 2012 दिल्ली में जो अहिंसक मार्ग से आंदोलन हुआ उस आंदोलन में जो जो आंदोलनकारी शामिल हुए उन सबको मैं बधई देता हूं, उनका अभिनंदन करता हूं। पुलिस वाले मार पिटाई करते रहे लेकिन किसी भी आंदोलनकारी ने हाथ नहीं उठाया, पानी के बौछार से मारा, अश्रधुर छोड़ा लेकिन सब सहन करते आंदोलन किया यह बात बहुत ही महत्वपूर्ण लगी।

आंदोलनकारी अपने लिए, अपने परिवार के लिए अपने संस्था के लिए क्या मांग रहे है? आंदोलनकारी इतना ही मांग रहे थे कि कोयला घोटाला के बारे में संसद में छ: दिन से चर्चा नहीं हो रही, यह जनता का पैसा आप बर्बाद क्यों कर रहे हैं। कोयले घोटाले में कांग्रेस क्या और बीजेपी क्या दोनों पक्ष और पार्टी के लोक जिम्मेदार हैं। जनता की दिशाभूल करने के लिए संसद में तू-तू मैं-मैं हो रही है। आंदोलनकारियों का कहना है कि देश के आजादी के लिए लाखों शहीदों ने अपनी कुर्बानी दी है, हसते हसते फांसी पर चले गए उनका देश और देश की जनात की खुशहाली के बारे में बहुत बड़ा सपना था। आज राजनीति के कई लोगों ने सत्ता से पैसा और पैसे से सत्ता इसी सोच में उनका सपना मिट्टी में मिला दिया। वह सपना पूरा करने का इन आंदोलनकारियों की कोशिश है। हम पुलिस के डंडे खायेंगे इतना ही नहीं गोली भी खायेंगे लेकिन उन शहीदों का सपना पूरा करने की कोशिश करेंगे। मैं जब टीवी देख रहा था कि आंदोलनकारी पुलिस के सामने खड़ा है और पुलिस उसको एक जानवर की तरह डंडे से पीट रही थी लेकिन किसी भी आंदोलनकारी ने अपना हाथ नहीं उठाया। उस दृश्य को देखकर मुझे उन नव जवानों पर बड़ा गर्व महसूस हो रहा था और अनुभव कर रहा था कि देश में परिवर्तन का समय आ गया है। ऐसे परिवर्तन लाने के लिए यही रास्ता है, जो यह युवक कर रहे थे।

आजादी की दूसरी लड़ाई में सफल होना है तो मार खाना पड़ेगा, लाठी खानी पड़ेगी। समय आ गया तो गोली भी खानी पड़ेगी। अब संपूर्ण परिवर्तन के लिए आजादी की दूसरी लड़ाई की शुरूआत हो गई है। उसका प्रदर्शन आंदोलनकारी युवकों ने किया है। इस प्रदर्शन से देश के युवकों को एक नई दिशा मिलेगी, नई प्रेरणा मिलेगी और दिल्ली की अहिंसक मार्ग से शुरू हुई आजादी की दूसरी लड़ाई की चिंगारी अब देश में फैल जाएगी और संपूर्ण परिवर्तन के तरफ यह आंदोलन जाएगा। मैं फिर से युवकों को आह्वान करता हूं कि राष्ट्रीय संपत्ती हमारी संपत्ती है, उसका कोई भी नुकसान ना हो रास्ते स गुजरने वाले सभी भाई बहन हमारे भाई बहन है, उनको तकलीफ ना हो, तकलीफ हमने सहन करनी है, आत्मकलेश हमने सहन करना है और उनकी वेदना ये जनता को होनी है। जैसे आज पुलिस वाले आंदोलनकारियों के पिट रहे थे लेकिन वेदना देश की जनता को हो रही थी।

आज के दिल्ली के आंदोलन का आदर्श देश के युवाओं को लेना है और आगे कोई भी हिंसा ना करते हुए अहिंसा के मार्ग से आंदोलन करना है। मुझे विश्वास हो रहा है कि आजादी की दूसरी लड़ाई में हम कामयाब हो जाएंगे। सभी आंदोलनकारियों का फिर से धन्यवाद।

भवदीय,

कि. बा. उपनाम अण्णा हजारे

 

 

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz