लेखक परिचय

प्रवक्ता.कॉम ब्यूरो

प्रवक्ता.कॉम ब्यूरो

Posted On by &filed under मीडिया.


tejpalनई दिल्ली, 25 नवंबर, 2013: इंडियन मीडिया सेंटर तहलका के संपादक तरुण तेजपाल द्वारा एक युवा महिला पत्रकार के साथ किए गए यौन उत्पीड़न के घटना की निंदा करता है और इस मामले की संबंधित अधिकारियों द्वारा पुख्ता जांच किए जाने की मांग करता है।

आईएमसी का मानना है कि कोई कॉरपोरेट या संपादकीय प्रमुख अपनी ही सजा की शर्तें निर्धारित नहीं कर सकते हैं। पत्रिका के प्रबंधन को भारत के माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा निर्धारित विशाखा दिशानिर्देशों के आधार पर त्वरित कार्रवाई करना चाहिए। इस तरह के गंभीर मामले में प्रबंधन द्वारा ‘आंतरिक जांच’ पर्याप्त नहीं होते और इसे स्वीकार्य नहीं किया जाना चाहिए। यह स्पष्ट रूप से संस्थागत विफलता है और देश के कानून को अपना काम करने देना चाहिए।

यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना पूरे मीडिया के लिए एक सुगठित तंत्र की आवश्यकता को रेखांकित करता है, जहां विशाखा दिशानिर्देशों के जरा से भी उल्लंघन होने की घटना को संज्ञान में लिया जाय और यह सुनिश्चित हो सके कि कानून अपना काम करें।

सरकार को तत्काल प्रभाव से संबंधित कानूनों के अनुपालन और इस सम्बंध में एक तंत्र बनाने के लिए अधिसूचना जारी करना चाहिए। साथ ही, यह सुझाव है कि इस मामले को राष्ट्रीय महिला आयोग को सौंपा दिया जाए।

आईएमसी भी निकट भविष्य में सभी हितधारकों और समविचारी संगठनों के साथ मिलकर इस मुद्दे पर एक राष्ट्रीय परामर्श का आयोजन करेगा।

इंडियन मीडिया सेंटर प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और इंटरनेट पत्रकारिता में उच्चतम मानकों की प्रतिष्ठा के लिए समर्पित एक स्वतंत्र और गैर-लाभकारी संस्था है। देश भर में इसके 16 चैप्टर कार्यरत हैं।

 

हस्‍ताक्षर:

 

डॉ. चंदन मित्रा,

अध्यक्ष, आईएमसी

(प्रधान संपादक, पायनियर)

 

प्रोफेसर बीके कुठियाला

उपाध्यक्ष, आईएमसी

कुलपति, माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल

 

के. जी. सुरेश

कार्यवाहक निदेशक, आईएमसी

(संपादक, विवेकानंद इंटरनेशनल फाउंडेशन)

 

प्रो. शिवाजी सरकार

राष्ट्रीय सचिव, आईएमसी

Leave a Reply

1 Comment on "तहलका प्रकरण मीडिया के लिए चिंता का विषय : इंडियन मीडिया सेंटर (आईएमसी )"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
Subhash Goel
Guest

आपके इतने भारीभरकम कदम के लिये ध्नयवाद. वैसे आप ने इतना बड़ा विचार व्यक्त करके तहलका संपादक को जैल के पीछै पंहुचा दिया है. आप सभी ने इस देश में सभी गुड काम एवं गुड फ़हसिले लिये है. आप सभी धन्वाद के हक़दार है.

wpDiscuz