लेखक परिचय

रहीम खान

रहीम खान

i am free lanc journalist and writer...................from balaghat[m.p.]

Posted On by &filed under जन-जागरण.


यह सर्वविदित है कि समय के साथ व्यक्ति की रूचिया भी परिवर्तित होती है। परिवर्तन एक शाश्वत सत्य भी है । हर चीच तब तक आकर्षक या लुभाती नही जब तक कि उसे सही रूप से तराशा ना जाये। यही कुछ इंसान के जिस्म के साथ भी है। कोई व्यक्ति तब तक फिट और अच्छा नही लगता जब तक कि उसकी पर्सनालिटी दूसरो को लुभाती नही । शरीर की सुंदरता में चार चांद लगाने के लिये पहले गांव से लेकर शहरो तक अखाड़े हुआ करते थे । जिनका स्वरूप आज परिवर्तित हो गया है। और अब इसे जिम का नाम दे दिया गया है। एक्सासाईज फिजिकल फिटनेश बनाये रखने का एक आसान तरीका माना गया है। केवल युवा वर्ग ही नही युवतियां और महिलाये भी अपने सौंदर्य की सुरक्षा के साथ शारीरिक रूप से आकर्षक दिखने के लिये जिम में जाना वक्त की जरूरत समझती है। इससे उनका स्वास्थ्य भी ठीक रहता है और सुंदरता में भी वृद्धि होती है। भले ही ग्रामीण क्षेत्रो में महिलाये इसका प्रयोग न करे पर शहरी एवं महानगरी संस्कृति में महिलाओ का जिम जाना स्टेटस सिंबल बनता जा रहा है। शहरो में महिलाओ के लिये अलग से जिम खुले हुये है जहां पर अलग-अलग समय पर महिलाये जाती है। जिम आज एक बड़ा व्यवसाय भी बन गया है। फिटनेश फंडे वर्तमान में समय की आवश्यकता के साथ ट्रेड भी बनते जा रहे है । इसके लिये डाइट से लेकर योगा, ऐरोबिक्स, डांस थेरोपी और कई अन्य माध्यम बाजार में सहजता के साथ देखे जा सकते है। इसी कड़ी का एक लोकप्रिय मायध्म है जिम। लेकिन जरूरत इस बात की भी है कि अगर आप जिम ज्वाईन करने के पहले वहंा के आंतरिक व्यवस्था के बारे में सही प्रकार से जानकारी प्राप्त कर ले तो बेहतर होगा अन्यथा कई बार पर्याप्त जानकारी न होने के कारण मुश्किलो का भी सामना करना पड़ सकता है। जिम के प्रति महिलाओ के बढ़ते रूझान पर एक महिला का कहना है कि आज की भगादौड़ तनावग्रस्त जीवन में अपने आप को फिट रखना बेहद जरूरी है। इससे शारीरिक और मानसिक दोनो क्षेत्र में लाभ की प्राप्ती होती है। सही जिम का चुनाव भी एक बड़ी चुनौती होती है। इसके लिये आवश्यक है कि हम निम्न बातो का ध्यान रखे-

1. जिम का चुनाव करते समय हमें इस बात का ध्यान देना चाहिये वह आपके लाइफ स्टाईल के अनुरूप हो। ताकि वह आपको हर प्रकार से प्रमोट करे ना कि वह मेडिकल प्रोग्राम बनकर रह जाये।

2. पहले जिम की लिस्ट बनाये फिर उन बातो की सूची तैयार करे जो आप जिम में चाहते है। जिम इंस्पेक्टर से अपनी एक्सासाईज प्लानिंग की जानकारी जरूर ले। वर्क आउट के दौरान सही कपड़े और डेªस का प्रयोग करे। उचित डेªस आपको शरीर में नये स्फूर्ति का संचार भी करती है।

3. जिम ऐसा हो जो आपमें मोटापा कम करने का आकर्षक जगाने की बजाये आपके शरीर के फेट को संतुलित स्थगित करे। पहली बार जिम ज्वाईन करने वालो के लिये जरूरी है कि वे जिम में ऐसे एक्सासाईज प्रोटीन और गाईड लाईन अपनाये जो शार्ट टर्म हो। जिन्हे आप अपनी शारीरिक क्षमता अनुसार पूरा कर सकने में सक्षम हो।

4. जिम के भीतर नये-नये सिस्टम शरीर को फिटनेश रखने के लिये आजकल निकल रहे है इनका प्रयोग आप उसी समय करे जब वहां का प्रशिक्षक आपको अनुमति दे। इसके अतिरिक्त जिम करने के पश्चात आपके डाइट प्लान को भी आप अपने प्रशिक्षक के स्वभाव के अनुसार तैयार कर उसका उपयोग करे। ताकि आपकी शारीरिक परिश्रम और डाइट के बीच समन्वय के कारण आपके शरीर पर कोई प्रतिकूल प्रभाव न पड़े। प्रयास यही करना चाहिये कि तली हुई, मसालेदार सब्जिया, मैदे से बने व्यजन न खाये । मांसाहारी लोग रेड मीट जैसे व्यजनो से परहेज करे । क्योकि प्रतिकूल भोजन आपके शरीर पर भी प्रतिकूल प्रभाव डालकर किसी रोग का शिकार बना सकता है। इसलिये डाइट पर भी ध्यान देना अतिआवश्यक है।

5. जिम में प्रशिक्षक द्वारा निर्धारित किये गये मापदण्ड के अनुसार ही एक्सासाईज करना चाहिये। अन्य लोगो कि तुलना अपने से करना या दूसरो को देखकर कोई भी एक्सासाईज नही करना चाहिये। किसी की बातो से प्रेरित होकर जिम ज्वाईन करने से अच्छा है कि आप अपने तरीके से जानकारी एकत्रित कर कार्य करे। वहां रखी मशीन और उपकरणो को भी उचित सलाह के अनुसार ही प्रयोग करे। महत्वपूर्ण बात यह भी है कि आप विशेषज्ञ चिकित्सक से सलाह लेने के पश्चात ही जिम ज्वाईन करे तो बेहतर होगा। ऐसा न हो कि आप किसी रोग से ग्रसित हो और जिम करने से वह रोग अधिक घातक रूप धारण कर ले इससे बचने के लिये इस ओर ध्यान देना आवश्यक है। साथ ही इस बात का भी विशेष ध्यान रखे कि आप जब जिम में एक्सासाईज करे तो अपने दिलो दिमाग पर किसी प्रकार का तनाव न हो अन्यथा यह आपके शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है। चूकि पुरूषो की अपेक्षा महिलाओ को शारीरिक रूप से नैसर्गिक प्रक्रियाओ से गुजरना पड़ता है इसलिये आवश्यक है कि महिलाये जिम ज्वाईन करने के पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य ग्रहण करे तभी इस ओर कदम बढ़ाये अन्यथा नही।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz