कृष्ण जन्माष्टमी

जन्म जन्मान्तर तक,जन्माष्टमी हम मनायेंगे
प्रभु कृष्ण तुम्हारी लीला के सैदव गुण ही गायेंगे

द्वापर में जन्म लिया,दुष्ट कंस का वध किया
अपने भक्तो की रक्षा के लिये तुमने जन्म लिया

माँ देवकी ने जन्म दिया,वासुदेव के पुत्र दुलारे हो
यशोदा माता ने पालन किया,नन्द बाबा के दुलारे हो 

ग्वाल वाल के सखा हो तुम,गोपियों के प्यारे हो
रास रचाया जहाँ जहाँ तुमने,वहाँ के उजियारे हो

सुदामा के रहे मित्र तुम,गरीबो के सदा सहारे हो
मेरी नैया पार करो तुम.मझधार में तुम सहारे हो

चिंता हमे नहीं अब अपनी,जब तुम ही रखवारे हो
उस नाव को क्या होगा खतरा जिसमे स्वंम मुरारी हो

आर के रस्तोगी

Leave a Reply

%d bloggers like this: