‘फंसाने’ का चलन और बच्‍चियां