मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा- ‘नौकरी नहीं मिली तो एजुकेशन लोन होगा माफ’

नई दिल्लीः मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि अपने बच्चों को खूब पढ़ाएं। इसके लिए राज्य सरकार ने स्टूडेंट क्रेडिट कार्य योजना लागू की है। इसके तहत लोन लेने और पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरी नहीं मिलने की स्थिति में छात्र-छात्राओं को एजुकेशन लोन चुकाने से मुक्ति मिल जाएगी।

ये बातें उन्होंने मंगलवार को जिले के हायाघाट प्रखंड के बिशनपुर गांव में कही। वे इलाके के प्रख्यात शिक्षाविद् व समता पार्टी के समय से ही नीतीश कुमार के साथ रहे स्व. प्रो. उमाकांत चौधरी की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद सभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि हर जिले में इंजीनियरिंग व पॉलिटेक्निक कॉलेज, पारामेडिकल संस्थान, एएनएम, जीएमएम स्कूल खुल रहे हैं। सूबे में पांच नए मेडिकल कॉलेज भी खुल रहे हैं। इन संस्थानों के खुलने से बच्चों को उच्च शिक्षा लेने में परेशानी नहीं होगी। बिहार में हम उच्च शिक्षा के प्रतिशत को 13 से बढ़ाकर 30 तक ले जाएंगे।

सरकारी दफ्तरों में लिखवाएंगे गांधी के संदेश

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें वोट नहीं, वोटरों की चिंता है। हम क्राइम, करप्शन और कम्यूनलिज्म से कभी समझौता नहीं करेंगे। महात्मा गांधी ने सात सामाजिक पाप से बचने का संदेश दिया था। सूबे के स्कूलों में इसे लिखवाया जा रहा है। अब सरकारी दफ्तरों में भी इसे लिखवाया जाएगा। इन संदेशों पर नजर पड़ने पर गड़बड़ी करने वाले लोग कुछ तो शर्म करेंगे।

%d bloggers like this: