प्रशंसकों के इंतजार पर खरी उतरी ‘बजरंगी भाईजान’

bajrangi-poster1बॉलीवुड के सुपरस्टार सलमान खान की बहुचर्चित फिल्म ‘बजरंगी भाईजान’ अपने पहले ही दिन से सिनेमा घरों में  धूम मचाई हुई है।  फिल्म के ट्रेलर को देखने के बाद से ही सलमान के प्रशंसक उनकी फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। फिल्म की कहानी ने दर्शकों को काफी पसंद आई।

‘बजरंगी भाईजान’ का कई गाने पहले ही दर्शकों के बीच मशहूर हो चुके हैं। ‘सेल्फी ले ले रे’, ‘भर दे झोली’, ‘तू चाहिए’ और ‘आज की पार्टी मेरी तरफ से’ ये सभी गाने दर्शकों के बीच काफी पसंद किए जा रहे हैं।

फिल्म की कहानी सलमान खान और बाल कलाकार  हर्षाली मल्होत्रा के आस-पास घूमती है। इसकी कहानी के केन्द्र में एक छह साल की पाकिस्तानी बच्ची शाहिदा (हर्षाली मल्होत्रा) है जो बोल नहीं सकती, वो अपनी मां के साथ भारत आती है। लेकिन वो यहीं छूट जाती है जहां उसकी मुलाकात पवन कुमार चतुर्वेदी उर्फ़ बजरंगी (सलमान ख़ान) से होती है । बजरंगी हनुमान-भक्त है जो कभी झूठ नहीं बोलता और वो ठान लेता है कि वह बच्ची को उसके घर तक पहुंचाकर ही दम लेगा । वीज़ा-पासपोर्ट ना होने के कारण उसे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसी बीच बजरंगी और रसिका (करीना कपूर) की लव स्टोरी भी चलती रहती है ।

फिल्म में सलमान ख़ान अपनी और फिल्मों की तरह लाउड नज़र नहीं आते हैं। गत पांच वर्षों के ब्लॉकबस्टर करियर में सलमान की ये सबसे अलग और बेहतरीन फिल्म है। फिल्म में छह साल की बच्ची ने बिना बोले ही अपना किरदार काफी हैरान कर देने वाला निभाया है। इंटरवल के बाद जब पाकिस्तानी न्यूज़ रिपोर्टर के रूप में नवाज़ुद्दीन सिद्दिकी पर्दे पर आते हैं तो उसके बाद से ही नवाज़ का हर एक सीन लाजवाब है।

कबीर खान के निर्देशन में बनी  फिल्म की ख़ासियत है कि इसमें कुछ सीन काफ़ी भावानात्मक हैं। इसमें शुरूआत से लेकर और अंत तक सलमान खान का डायलॉग ‘हम हनुमान के भक्त हैं और झूठ नहीं बोलते’ कई बार बोलते हैं। फिल्म में सलमान खान के किरदार के लिए जिस मासूमियत की जरूरत थी उसमें वह बिल्कुल फिट नहीं बैठते हैं। फिल्म में बेजुबान हर्षाली मल्होत्रा ने बिना बोले ही अपने चेहरे पर खुशी व गम के भाव बखूबी उतारे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: