Posted On by &filed under राजनीति.


tajसरकार ने आज माना कि ताजमहल के कुछ हिस्सों का रंग गहरा हरा होते जा रहा है लेकिन कहा कि यह बदलाव अस्थायी है और प्रभावित सतहों की सफाई, उपचार और धुलाई होते ही संगमरमर अपने मूल रूप में आ जाता है।

संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री महेश शर्मा ने आज राज्यसभा को बताया कि ताजमहल के कुछ हिस्सों का रंग ज्योल्डीकीरोनोमस नामक कीड़े के मल त्याग और धूल के कारण गहरा हरा हो रहा है।

उन्होंने कहा ‘‘किंतु यह बदलाव अस्थायी है। और प्रभावित सतहों की सफाई, उपचार और धुलाई होते ही संगमरमर अपने मूल रूप में आ जाता है।’’ एक प्रश्न के लिखित उत्तर में शर्मा ने बताया कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण इस संबंध में किसी भी तरह की गतिविधि पर निगरानी रखे हुए है।

शर्मा ने बताया कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण समुचित संरक्षण और सफाई संबंधी पद्धतियों के प्रयोग से नियमित रूप से ताजमहल का संरक्षण और परिरक्षण करता है। आसपास की वायु की गुणवत्ता की भी निगरानी की जाती है।

उन्होंने बताया कि हानिकारक तत्वों के प्रभाव को कम करने के लिए ताजमहल के खुले स्थानों पर और महताब बाग में यमुना नदी के किनारे पर्याप्त पौधे लगा कर संरक्षित क्षेत्र को साफ सुथरा रखा जाता है।

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *