Posted On by &filed under राजनीति, समाज.


नईदिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पंजाब में अकाली-भाजपा गठजोड़ और कांग्रेस को लोग समझ चुके हैं और अब पंजाब में खालसा का राज होगा। वह  अमृतसर के मकबूलपुरा इलाके में एक इकत्रित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने अमृतसर दौरे दौरान अकालियों, कांग्रेसियों और भाजपा नेताओं द्वारा काले झंडे दिखाने वालों में शामिल लोगों को आम आदमी पार्टी के ही समर्थक बताया। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के पक्ष में हवा नहीं तूफान आ रहा है जिसमें पंजाब के मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल और उनके साथ प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से साझेदारी कर बैठे बड़े राजनीतिक नेता उड़ जाएंगे और अब पंजाब में ‘राज करेगा खालसा’। गौरतलब हो कि  अरविंद केजरीवाल पंजाब में 5 दिवसीय  दौरे पर हैं। अपने दौरे के पहले 3 दिनों में ही केजरीवाल ने सत्ताधारी शिरोमणी अकाली दल के पसीने छुड़ा दिए हैं। इसकी शुरूआत उन्होनें पंजाब में पैर रखते ही केजरीवाल ने सबसे पहले अकालियों को लम्बे हाथों लेकर गीदड़ कह दिया। इसके इलावा उन्होंने और कई तरह की राजनीतिक ब्यानबाजी करके अकाली दल को चारों तरफ से में घेर लिया है।
विरोधी कर रहे केजरीवाल का प्रचार:
आम आदमी पार्टी को केजरीवाल के इस दौरे से मीडिया से जितनी पब्लिसिटी मिलनी थी।  उससे तीन गुणा ज्यादा प्रचार अकाली दल की तरफ से उनके खिलाफ की जा रही बयानबाजीसे हो रहा है।  इसी तरह केजरीवाल के बयानों से कांग्रेसियों के सीने में भी दर्द हो रहा है। राजनीतिक समीक्षाकारों ने टिप्पणी करते हुए कहा कि अच्छा होता यदि अकाली दल और कांग्रेस केजरीवाल के दौरे को लेकर चुप्पी साधी रखते और लोगों के दरमियान अपना एजेंडा पेश करने का मौका देते। लोकतंत्र में सबको अपनी बात कहने का अधिकार है , पर जिस तरीके से प्रचार किया जा रहा है। उससे साफ जाहिर हो रहा है कि केजरीवाल के पंजाब दौरे से अकाली दल के पसीने जरूर छूट गए हैं। अभी भी मौका है कि दोनों पार्टियां केजरीवाल को घेरने की बजाय उसके जाने के बाद लोगों के सामने अपनी बात रखें। पंजाब के दौरे पर आए अरविंद केजरीवाल के अबोहर पहुंचने पर  सर्कुलर रोड में गली नंबर 1ए में इससे पहले लोगों की इतनी भीड़ कभी नहीं जुटी थी।
रिश्तेदारों से मिले केजरीवाल:
आसपास के लोग यह जानकर हैरान रह गए कि यहां रहने वाले दुली चंद बिंदल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के फूफा हैं । यह राज तब खुला, जब खुद केजरीवाल अपने रिश्तेदारों से मिलने उनके घर पहुंचे। इससे पहले वे उनके घर 26 साल पहले आए थे।  दुली चंद के अलावा उनके दो और फूफा और बुआ केजरीवाल से मिलने राजस्थान के गंगानगर से आए हुए थे। शुक्रवार को केजरीवाल ने अपने 70 से ज्यादा रिश्तेदारों से मुलाकात की।दुली चंद अबोहर में 30 सालों से रह रहे हैं और आयुर्वेदिक डॉक्टर हैं। उन्होंने कहा,  कि केजरीवाल ने खुद उन्हें सूचित किया था कि वे उनके घर आ रहे हैं।  आखिरी बार वे उनके बेटे महेंद्र की शादी में 1989 में यहां आए थे।गंगानगर से केजरीवाल से मिलने आए उनके फूफा रमेश गोयल ने कहा, श्विरोधी राजनीतिक दल केजरीवाल को हरियाणवी कहते हैं, लेकिन अब वे उनका पंजाब कनेक्शन भी देख सके हैं।
मकबूलपुरा में नशे को बनाया निशाना: 
उन्होंने कहा कि वह आज मकबूलपुरा में कई परिवारों को मिल कर आए हैं जिनमें कई ऐसे परिवार हैं जो नशों के कारण बर्बाद हो गए हैं परन्तु पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल कह रहे हैं कि पंजाब में नशों वाली कोई भी बात नहीं है। उन्होंने सुखबीर सिंह बादल को कहा कि वह मकबूलपुरा में आ कर अपनी तसल्ली कर लें। इसके अलावा केजरीवाल पट्टी के दौरे दौरान नशे से अपनी जान गंवा चुके नौजवानों के परिजनों से भी मिले। उन्होंने कहा कि पंजाब की सरकारों ने नशे के मुद्दे पर अपनी जिम्मेदारियों को नहीं निभाया। केजरीवाल ने कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया का नाम लेतेहुए कहा कि वह उनको पर्चों का भय न दिखाएं, अब तो पंजाब के बच्चे-बच्चे की जुबान पर मजीठिया का नाम आ चुका है कि वह पंजाब में नशों के विस्तार के लिए जिम्मेदार है।
किया वायदा , नशे पर लगेगा प्रतिबंधः
उन्होने घोषणा की कि पंजाब में आप की सरकार बनने पर 2 महीने के अंदर-अंदर पंजाब को नशा मुक्त कर दिया जाएगा और पीड़ित परिवारों को विशेष सुविधाएं दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि बिक्रम सिंह मजीठिया सहित जो भी लोग नशे में के कारोबार में शामिल पाए गए उनको जेलों में फैंका जाएगा। उन्होंने पंजाब में नशों के लिए अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार को जिम्मेदार बताया।इस मौके पर उनके साथ पंजाब के इंचार्ज संजय सिंह, सहायक इंचार्ज दुर्गेश पाठक, पंजाब के कन्वीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर, सांसद भगवंत मान, गुरप्रीत सिंह घुग्गी, हिम्मत सिंह शेरगिल, आशीष खेतान आदि उपस्थित थे।अरविंद केजरीवाल के पंजाब दौरे पर पोस्टर राजनीति गर्मा गई है। इसी बीच पंजाब के कई हिस्सों में केजरीवाल के पोस्टर लगे हैं जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए आश्वासन को झूठ करार दिया जा रहा है।वहीं  उनके बटाला दौरे के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं द्वरा किए गए प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इस लाठीचार्ज में भाजपा के जिला प्रधान सुरेश भाटिया घायल हो गए।
निलम्बित सांसदों की केजरीवाल को दो टूक, 
आम आदमी पार्टी के केंद्रीय संयोजक अरविन्द केजरीवाल इन दिनों पंजाब के दौरे पर हैं तथा पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर राजनीतिक बिसात बिछाने में लगे हुए हैं। ऐसे में पार्टी से निलंबित किए गए सांसदों ने केजरीवाल को उनके मामले में स्थिति साफ करने को कहा है।  जानकारी के अनुसार अगस्त 2015 में सांसद हरिन्द्र खालसा तथा डाक्टर धर्मवीर गांधी को प्रदेश संयोजक सुच्चा सिंह छोटेपुर की तरफ से निलंबित कर दिया गया था। उन पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप था। गौरतलब है कि दोनों सांसद रक्खड़ पुन्या पर बाबा बकाला में अनुशासन कमेटी प्रमुख डा. दलजीत सिंह द्वारा लगाए मंच पर गए थे जिसके बाद उन पर कार्रवाई की गई थी।
मीडिया को भी लिया आडे हाथ
साथ ही इन सांसदों का यह भी कहना है कि स्वयं केजरीवाल ने इस मामले पर उनका पक्ष सुनने के लिए उन्हें नहीं बुलाया है। सांसदों का कहना है कि केजरीवाल दूसरी बार पंजाब आए हैं लेकिन इस मामले में उनकी खामोशी समझ से बाहर है।
जानकारी मिली है कि अंग्रेजी मीडिया में इन सांसदों ने तो केजरीवाल को सीधे-सीधे आड़े हाथों लिया है तथा कहा है कि अन्य दलों की तरह आम आदमी पार्टी की भी किसान आत्महत्या, ड्रग्ज, कृषि तथा उद्योगों से संबंधित अन्य मसलों को लेकर कोई ठोस योजना नहीं है।
कैप्टन ने भी केजरीवाल पर खोला मुंह
पंजाब में अगले 6 महीनों में आम आदमी पार्टी के घोषणा पत्र के लिए अध्ययन करने की बात कहने पर कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने कहा कि अभी तक केजरीवाल की पार्टी को पंजाब के वास्तविक मुद्दों का पता नहीं है। राज्य में जनता को क्या मुश्किलें आ रही हैं, उसे जानने के लिए अभी यह पार्टी 6 महीने और लगाएगी।कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने कहा कि केजरीवाल और उनकी आम आदमी पार्टी का सियासी चरित्र ऐसा है, कि वह लोगों को गुमराह करते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में 12581 गांव हैं, क्या आम आदमी पार्टी सभी गांवों में जा सकेगी? अभी तक तो इस पार्टी का  ढांचा भी नहीं बन सका है। उन्होंने कहा कि इसीलिए वह लगातार कह रहे हैं कि पंजाब को एक और प्रयोग की जरूरत नहीं है। पंजाब में पहले ही बादलों के 9 वर्षों के शासनकाल में काफी कुछ सहा है। राज्र्य आिथक दृष्टि से काफी पीछे पिछड़ गया है।
Default (8)
कमल शर्मा ने केजरीवाल को कहा नटवरलाल
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमल शर्मा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल पर तीखा प्रहार करते हुए उन्हें राजनीति का ‘नटवर लाल’ बताया है जो अपने निजी स्वार्थों के लिए सभी को मूर्ख बनाने का प्रयास कर रहे हैं। शर्मा ने आरोप लगाते हुए कहा है कि नौकरशाह से राजनेता बने ‘मफलरमैन’ दिल्ली में अराजकता  फैलाने के बाद पंजाब को उसी आग में झोंकना चाहते हैं। श्री शर्मा ने कहा कि पंजाब की जागरूक जनता केजरीवाल के इन प्रयासों को  कभी सफल नहीं होने देगी। उन्होंने केजरीवाल को जे.एन.यू., हरियाणा में आरक्षण के नाम पर हुई हिंसा और पंजाब में आतंकवाद व जरनैल सिंह भिंडरांवाले के मुद्दे पर अपना स्टैंड स्पष्ट करने को कहा है।

Leave a Reply

1 Comment on "अब पंजाब में ‘राज करेगा खालसा- केजरीवाल"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
पवन
Guest
पवन

धोखेबाज़ वबहरूपिया।

wpDiscuz