Posted On by &filed under क़ानून, समाज.


नईदिल्ली । नरेंद्र मोदी की सरकार ने सभी केंद्रीय विद्यालयों को अपने स्कूल की इमारतों पर रोजाना तिरंगा फहराने का आदेश दिया है. इससे पहले केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की ओर से अपने संस्थान परिसरों में प्रमुखता से राष्ट्रीय ध्वज फहराने का संकल्प किया गया था.
छात्र हर रोज कर सकें तिरंगे को सलाम
केंद्रीय विश्वविद्यालय प्रशासन (केवीएस) ने सभी प्रधानाचार्यों से कहा है कि वे सुनिश्चित करें कि सुबह की सभा के दौरान किसी प्रमुख जगह पर तिरंगा फहराया जाए, ताकि सभी छात्र हर रोज तिरंगे को सलाम कर सकें.
केवीएस की प्रमुख हैं स्मृति ईरानी
केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी केवीएस की अध्यक्ष हैं. केवीएस भारत और विदेशों में एक हजार से ज्यादा स्कूल संचालित करता है. जेएनयू विवाद के बाद राष्ट्रवाद पर जारी बहस के बीच यह कदम उठाया गया है.
केवीएस की ओर से क्षेत्रीय कार्यालयों को भेजा पत्र
केवीएस के अतिरिक्त आयुक्त यू एन खवारे ने अपने क्षेत्रीय कार्यालयों को लिखे पत्र में कहा है, ‘जैसा कि आपको पता है, भारत का राष्ट्रीय ध्वज देश के सम्मान और आजादी का प्रतीक है. यह हमारे लिए काफी अहमियत रखता है. हमें अपने राष्ट्रीय ध्वज का आदर करना चाहिए और उसके बारे में हर चीज जानना चाहिए. आपको यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया जाता है कि केंद्रीय विद्यालयों और क्षेत्रीय कार्यालयों के भवनों पर हर सुबह तिरंगा फहराया जाए और सूर्यास्त से पहले झंडे को उतार लिया जाए.’
indian-flag---story-size_647_081515021254

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz