Posted On by &filed under राजनीति.


modi-jiप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज छत्तीसगढ़ की नई राजधानी नया रायपुर में पांच दिवसीय राज्योत्सव का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कई कल्याणकारी योजनाओं का भी लोकार्पण किया। इनमें ‘तेंदु पत्ता बोनस’ और ‘सौर सुजला योजना’ शामिल हैं।
छत्तीसगढ़ राज्य के गठन की 16वीं सालगिरह पर प्रधानमंत्री ने मंगलवार को सूबे की पहली मानव निर्मित नंदनवन जंगल सफारी का उदघाटन किया। मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ उन्होंने इस जंगल सफारी में कुछ समय भी बिताया। साढ़े तीन सौ एकड़ में फैली इस जंगल सफारी के अंदर विभिन्न प्रजातियों के जीव-जंतु स्वछंद घूमते हैं।

इसके बाद नरेन्द्र मोदी ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा का अनावरण किया। एकात्म मानवतावाद के प्रवर्तक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की संगमरमर से निर्मित 15 फीट की इस प्रतिमा का निर्माण राजस्थान के कलाकार ने किया है।

प्रतिमा का अनावरण करने के बाद प्रधानमंत्री ने एकात्म पथ पर करीब ढाई किलोमीटर लंबे बस रैपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम यानी बीआरटीएस का उदघाटन किया। मंत्रालय को जोड़ती ये सड़क दिल्ली के राजपथ की तर्ज पर बनाई गई है। इस सेवा के तहत रायपुर शहर और नया रायपुर के बीच 42 किलोमीटर के रूट में दो बस कॉरिडोर के बीच बसें चलेंगी। यह विश्व बैंक की सहायता से शुरु की जाने वाली 170 करोड़ रुपये की परियोजना है।

इसके बाद उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रम यानी राज्योत्सव में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने खुले में शौच मुक्त पंचायतों के प्रतिनिधियों को सम्मानित किया। उज्जवला योजना के तहत महिलाओं को गैस कनेक्शन भी उन्होंने दिए। इनके अलावा प्रधानमंत्री ने तेंदु पत्ता की बिक्री से हासिल शुद्ध लाभ में से 88 करोड़ रुपये के बोनस का भी वितरण किया। सौर सुजला योजना के तहत किसानों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप भी वितरित किए।

राज्योत्सव स्थल पर एक विशाल सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीबी को खत्म करके ही संपूर्ण विकास के लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है।

उन्होंने छत्तीसगढ़ की तरक्की पर कहा कि यह राज्य तेजी से तरक्की के सोपान चढ़ रहा है। यहां गरीब से गरीब आदमी के विकास का भी ख्याल रखा जा रहा है। प्रधानमंत्री ने किसानों और गरीबों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं को भी जनता के सामने रखा।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz