Posted On by &filed under टेक्नॉलोजी.


bariatric surgery
बच्चों में मोटापे के कारण उतपन्न होने वाली कई बीमारियों से निपटने के लिए राजधानी में बैरिएट्रिक सर्जरी पर आज से दो दिन का अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। इस सम्मेलन का उद्देश्य भारत में मोटापे की बढ़ती समस्या पर विचार करना तथा मोटापे से निजात दिलाने वाली नयी सर्जिकल विधियों का मूल्यांकन करना है। सम्मेलन के मुख्य आकर्षणों में लाइव सर्जरी, वीडियो सेशन एवं पैनल चर्चा शामिल हैं।

इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल में आयोजित इस सम्मेलन में भारत के अलावा अमरीका, कनाडा और ब्रिटेन के 200 से अधिक विशेषज्ञ हिस्सा ले रहे है। चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि बचपन में शुरू होने वाले मोटापे को बाद की उम्र में नियंत्रित खान-पान, व्यायाम एवं वजन घटाने के उपायों से भी दूर करना कठिन होता है और ऐसे में मोटापा घटाने की सर्जरी अथवा बैरिएट्रिक सर्जरी का सहारा लेना पड़ जाता है।

डा. अरूण प्रसाद बताते हैं कि पिछले दस वर्शों में बैरिएट्रिक सर्जरी में 10 गुना इजाफा हुआ है। कुछ साल पहले दिल्ली में हर माह ऐसे दो या तीन आपरेशन होते थे लेकिन आज हर माह 50 से 60 आपरेशन हो रहे हैं।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz