अमेरिका-रूस तनाव के बीच दोनों देशों के आईएसएस के अंतरिक्ष यात्री पृथ्वी पर लौटे

नई दिल्लीः अमेरिका और रूस में तनाव के बीच अमेरिका के दो और एक रूसी अंतरिक्ष यात्री अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) पर अपने छह महीने का अभियान खत्म करके गुरूवार को पृथ्वी पर लौट आये। नासा अंतरिक्षयात्री ड्रियू फ्यूस्टेल और रिकी अर्नोल्ड और रोसकोसमोस के ओलेग आर्तिमयेव अंतरराष्ट्रीय समयानुसार सुबह 11 बजकर 45 मिनट पर कजाखिस्तान के कजाख नगर के दक्षिणपूर्व में उतरे।

यह अंतरिक्ष यात्री ऐसे समय में वापस आए हैं जब रूस और अमेरिका के अधिकारी अंतरिक्ष स्टेशन पर लगे एक रूसी अंतरिक्ष यान में एक रहस्यमय छेद सामने आने की जांच कर रहे हैं। इस छेद का पता अगस्त में चला था जिससे आईएसएस पर वायु रिसाव हुआ था, हालांकि उसे तत्काल सील कर दिया गया था। इस हफ्ते रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख दमित्रि रोगोजिन ने कहा था कि जांचकर्ताओं का मानना है कि छोटा छेद जानबूझकर बनाया गया था और उक्त छेद विनिर्माण दोष नहीं था।

पिछले महीने रूसी समाचारपत्र ‘कोमेरसेंत’ ने खबर दी थी कि एक जांच में इस संभावना का पता लगाया कि अमेरिकी अंतरिक्षयात्रियों ने जानबूझकर छेद किया था ताकि एक बीमार सहयोगी को वापस घर भेजा जा सके। रूसी अधिकारियों ने हालांकि बाद में इससे इनकार कर दिया था।

22 queries in 0.164
%d bloggers like this: