उत्तराखंड के अल्मोड़ा शहर में बड़े भाई के परिवार पर छोटे भाई ने फेंका एसिड, आठ घायल

नई दिल्लीः शराब के नशे में धुत एक व्यक्ति ने अपने ही बड़े भाई के परिवार पर तेजाब (एसिड) से हमला कर दिया। इसमें आठ लोग घायल हो गए। सभी को जिला अस्पताल में लाया गया। घायलों में से दो की नाजुक हालत को देखते हुए इन्हें हल्द्वानी रेफर कर दिया है। एसिट अटैक करने वाले ने बाद में खुद पर भी तेजाब डाल दिया। फिलहाल राजस्व पुलिस मामले की जांच कर रही है।

अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ मोटर मार्ग पर अल्मोड़ा जिला मुख्यालय से 24 किमी दूर दशाऊं गांव निवासी रघुनाथ सिंह लीसे का काम करता है। ग्रामीणों ने बताया कि सोमवार को वह शराब के नशे में धुत होकर घर पहुंचा। किसी बात पर वह अपने बड़े भाई से गाली-गलौज करने लगा। बड़े भाई को वह धमकी देने लगा कि उसके परिवार पर तेजाब डाल देगा। इसी दौरान आरोपी रघुनाथ सिंह पांच लीटर का केन लेकर अपने बड़े भाई शेर सिंह चम्याल के घर में घुस गया और भाई के परिवार के सदस्यों पर तेजाब डाल दिया।

आरोपी ने खुद पर भी डाला एसिड
तेजाब के हमले के बाद में आंगन में आकर रघुनाथ ने खुद अपने अपने सिर पर भी एसिड उड़ेल लिया। एसिड अटैक में आरोपी के बड़े भाई शेर सिंह (65) उनकी पत्नी मोहनी देवी (60), बड़ी बहू जया देवी (35), छोटी बहू नीमा देवी (45), पौत्री किरन (14), पौत्र हरीश (8) और पौत्री चांदनी (5) बुरी तरह से झुलस गए। तेजाब के हमले के समय घर में मौजूद दीवान सिंह के शरीर पर भी तेजाब के छींटे आ गए। लेकिन वह बाल-बाल बच गए। बाद में ग्रामीण निजी वाहन से सभी घायलों को जिला अस्पताल में लाए।

दो महिलाएं 33 फीसदी झुलसी
जिला अस्पताल के चिकित्सक डॉ.सौरव जोशी ने बताया कि जया देवी और नीमा देवी करीब 33 फीसदी झुलसे हैं। दोनों को ही हायर सेंटर हल्द्वानी रेफर कर दिया है। अन्य घायलों को यहां पर उपचार दिया जा रहा है। इधर, डालाकोट क्षेत्र के पटवारी कुलदीप जोशी ने बताया कि सोमवार देर शाम घटना की जानकारी मिलने पर वह मामले की जांच कर रहे हैं।

अल्मोड़ा के एसडीएम विवेक राय ने बताया कि घटना डालाकोट पटवारी क्षेत्र के दशाऊं गांव की है। मामले में अभी तहरीर नहीं मिली है। फिर भी पटवारी को मामले की जांच करने के लिए कहा गया है।

%d bloggers like this: