राजनाथ सिंह ने कहा उम्मीद करता हूं भारत के प्रति अपना रवैया बदलेगा पाकिस्तान

नई दिल्लीः पाकिस्तान से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा पर दो ‘स्मार्ट फेंसिंग’ परियोजनाओं को लॉन्च करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को उम्मीद जताई कि इस्लामाबाद में नई सरकार भारत के प्रति रवैये में बदलाव लाएगी। सिंह से पूछा गया कि क्या वह इमरान खान के नेतृत्व में पाकिस्तान में नई सरकार के गठन के बाद वहां के रवैये में कोई बदलाव की उम्मीद करते हैं। उन्होंने कहा, मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तान की प्रकृति में कोई बदलाव आएगा। मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि बदलाव आए। मैं उम्मीद करता हूं कि यह बदलाव पहले से बेहतर हो। वह कंपरेहेंसिव इंटीग्रेटेड बार्डर मैनेजमेंट सिस्टम (सीआईबीएमएस) के अंतर्गत सीमा पर बाड़ लगाने की दो ‘स्मार्ट’ परियोजनाओं को लांच करने के बाद पलौरा में बीएसएफ मुख्यालय में मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि भारत ने पाकिस्तान के साथ संबंध बनाए रखने के लिए अधिकतम प्रयास किए हैं। गृहमंत्री ने कहा, हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केवल संबंध बेहतर करने के लिए ही प्रोटोकॉल तोड़कर पाकिस्तान गए थे। अगर पाकिस्तान उस प्रयास के बाद भी समझने की कोशिश नहीं कर रहा है तो क्या किया जा सकता है।

चुनाव में शामिल होने की अपील
सिंह ने सभी राजनीतिक दलों से अपील की कि वे जम्मू-कश्मीर में आगामी पंचायत एवं शहरी निकाय संस्था के चुनाव में हिस्सा लें। सिंह की यह अपील राज्य की दो प्रमुख क्षेत्रीय पाटियों नेशनल कांफ्रेंस (एनसी) एवं पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के इन चुनावों में हिस्सा नहीं लेने की घोषणा के बाद आई है। दोनों दलों ने घोषणा की कि वे चुनाव में हिस्सा नहीं लेंगे क्योंकि केन्द्र ने संविधान के ‘अनुच्छेद 35ए’ पर अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है। यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है। उन्होंने कहा, मैं इन पार्टियों से इन चुनावों में शामिल होने की अपील करता हूं क्योंकि लोगों से सीधे संपर्क स्थापित करने का केवल यही तरीका है।

%d bloggers like this: