वायुसेना मुकाबले के लिए हमेशा तैयार- एयर चीफ मार्शल

नई दिल्लीः वायुसेना प्रमुख बी. एस. धनोआ ने सोमवार को कहा कि बल किसी भी स्थिति का मुकाबला करने के लिए ‘‘हमेशा तैयार’’ है। उन्होंने कहा कि 36 राफेल विमानों और एस-400 मिसाइल प्रणालियों से बल की क्षमता में बढ़ोतरी होगी। वायुसेना के 86वें स्थापना दिवस पर धनोआ ने ये बातें कही।

हिंडन पर वायुसेना कर्मियों को संबोधित करते हुए एयर चीफ मार्शल धनोआ ने कहा कि वायु सीमा की सुरक्षा एक ऐसा क्षेत्र है जहां बल को लगातार नजर रखने की जरूरत है क्योंकि ‘‘शांति काल में विमानों का नुकसान होना न केवल खर्चीला है बल्कि युद्ध के समय की क्षमताओं में कमी आना भी है।’’

वायुसेना पिछले कुछ वर्षों से अपने प्रमुख विमानों और सैन्य हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने की घटनाओं से जूझ रही है। वायुसेना अध्यक्ष ने कहा कि वायुसेना के चालक दल और तकनीशियन्स को यथासंभव बेहतर प्रशिक्षण देकर मानव खामियों को कम करने के प्रयास किए जा रहे हैं ताकि वर्तमान पीढ़ी के लड़ाकू विमानों के साथ ही पुराने विमानों तथा हथियार प्रणाली की चुनौतियों को पूरा किया जा सके।

%d bloggers like this: