PM मोदी पर दंगे का आरोप लगाने वाले पूर्व आईपीएस अधिकारी हिरासत में..

नई दिल्ली : गुजरात सीआईडी (क्रिमिनल जांच विभाग) ने बुधवार को पूर्व आईपीएस अधिकारी संजीव भट्ट को हिरासत में ले लिया। आरोप है कि भट्ट ने 1998 के एक फेक नार्कोटिक्स मामले में एक वकील को झूठे तरीके से फंसाया। गुजरात हाईकोर्ट के निर्देशानुसार भट्ट को हिरासत में लिया गया। उनके साथ छह अन्य लोगों को भी कस्टडी में लिया गया है, जिनमें दो पूर्व पुलिस कर्मी शामिल हैं।इससे पहले संजीव भट्ट को गुजरात की सीआईडी क्राइम पूछताछ के लिए ले गई थी। इस बीच संजीव भट्ट को हिरासत में लिए जाने के बाद डीजीपी ऑफिस के चौथे और पांचवें फ्लोर पर प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया है।सीआईडी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इन सभी से पूछताछ हो रही है और इसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है। बता दें कि संजीव भट्ट जब उत्तर गुजरात के बनासकांठा में पुलिस अधीक्षक के रूप में सेवाएं दे रहे थे तो उन पर नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंट (एनडीपीएस) तहत एक फर्जी मामले में एक वकील को फंसाने का आरोप है।

%d bloggers like this: