Posted On by &filed under राजनीति.


1481_089केंद्रीय सचि‍वालय कर्मचारि‍यों की समयोचि‍त पदोन्‍नति‍ देने की मांग
केंद्रीय सचि‍वाल कर्मचारि‍यों ने सेवाओं में पदोन्‍नति‍ में ठहराव दूर करने और समयोचि‍त पदोन्‍नति‍ देने की मांग की। केंद्रीय कर्मचारी सेवा फोरम के संयोजक श्री डी.एन. साहू के नेतृत्‍व में एक प्रति‍नि‍धि‍मंडल ने आज कार्मि‍क राज्‍य मंत्री डॉ. जि‍तेंद्र सिंह से मुलाकात की। पि‍छले एक वर्ष से उनकी सभी शि‍कायतों के लि‍ए सकारात्‍मक और सहयोगी रूख अपनाने के लि‍ए उन्‍होंने श्री जि‍तेंद्र सिंह को धन्‍यवाद दि‍या। उन्‍होंने यह उम्‍मीद जाहि‍र की कि‍ वे सेवाओं में वि‍षमताओं को दूर करने का कोई रास्‍ता नि‍कालेंगे। उन्‍होंने मंत्री महोदय को वि‍ज्ञापन भी दि‍या।
डॉ. जि‍तेंद्र सिंह ने कर्मचारि‍यों को आश्‍वासन दि‍या कि‍ उनकी सभी समस्‍याओं और परि‍वेदनाओं को नि‍श्‍चि‍त रूप से दूर कि‍या जाएगा। कार्मि‍क और प्रशि‍क्षण वि‍भाग ने उनके र्नि‍देश पर कर्मचारि‍यों की मांग के समर्थन में प्रस्‍ताव भेजा है। डॉ. सिंह ने कहा कि‍ मोदी सरकार ने अधि‍कतम शासन न्‍यूनतम सरकार के लि‍ए शपथ ली है और शासन को सरल बनाने और पदाधि‍कारि‍यों के लि‍ए कार्य अनुकूल आरामदेह वातावरण उपलब्‍ध कराने के लि‍ए अनेक कदम उठाए हैं। प्रति‍नि‍धि‍मंडल के सदस्‍यों ने बताया कि‍ केंद्रीय सचि‍वालय सेवा नि‍यमावली के अनुसार अवर सचि‍व से उपसचि‍व बनने के लि‍ए कुल 30 वर्ष की सेवा अवधि‍ में केवल 5 वर्ष की अनुमोदि‍त सेवा की जरूरत पड़ती है। वहीं ऐसे अनेक कर्मचारी है जो 20-22 वर्षों के सेवा के बाद भी पदोन्‍नति‍ की प्रतीक्षा कर रहे हैं और अनेक अवर सचि‍व या अनुभाग अधि‍कारी के रूप में ही सेवानि‍वृत्‍त हो गए हैं।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz