Posted On by &filed under टेक्नॉलोजी.


digital indiaमध्यप्रदेश में ‘डिजिटल इंडिया सप्ताह’ में शुक्रवार 3 जुलाई, 2015 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये प्रदेश में संचालित वर्चुअल क्लास रूम के छात्र-छात्राओं के साथ सीधे संवाद करेंगे। कॉन्फ्रेंसिंग सुबह 10:30 बजे से होगी। इसमें मुख्य रूप से ‘डिजिटल मध्यप्रदेश में युवाओं की भूमिका’ पर चर्चा की जाएगी। कॉन्फ्रेंसिंग के बाद मंत्रालय में मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में गठित डिजिटल इंडिया कार्यक्रम मॉनिटरिंग समिति द्वारा डिजिटल इंडिया के मध्यप्रदेश में अमल की समीक्षा की जाएगी।
सप्ताह में 4 जुलाई को मंत्रालय में राज्य ई-मेल सेवा के राज्य स्तरीय नोडल अधिकारियों की कार्यशाला होगी। इस मौके पर कम्प्यूटर दक्षता प्रमाणीकरण परीक्षा ((CPCT) की शुरुआत की घोषणा होगी। इस क्रम में 6 जुलाई को प्रदेश में इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम डिजाइन एवं मैन्युफेक्चरिंग (ESDM) क्षेत्र में युवाओं में कौशल विकास के लिये प्रशिक्षण कार्यशाला की जायेगी। समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किये जायेंगे।
मंगलवार 7 जुलाई को सप्ताह के दौरान महिलाओं में इंटरनेट के प्रति जागरूकता लाने एवं कम्प्यूटर साक्षरता के उद्देश्य से ई-शक्ति अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत होगी। इसी क्रम में 7 जुलाई से 11 जुलाई तक रीवा, जबलपुर एवं होशंगाबाद में डिजिटल इंडिया सहित अन्य विषय पर जिला अधिकारियों की कार्यशाला होगी। सप्ताह के दौरान महाविद्यालय एवं अन्य शिक्षण संस्थाओं में ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘डिजिटल मध्यप्रदेश’ पर आधारित विभिन्न प्रतियोगिताएँ होंगी जिसमें  चार्ट पोस्टर्स, क्विज, वाद-विवाद एवं निबंध शामिल हैं।
डिजिटल इंडिया कार्यक्रम
उल्लेखनीय है कि डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य डिजिटल इंडिया प्लेटफार्म का समुचित उपयोग कर लोगों को डिजिटल रूप से जागरूक और सशक्त बनाना है। सूचना प्रौद्योगिकी तकनीक के जरिये आम लोगों के जीवन को अधिक सुविधाजनक बनाना भी इसका उद्देश्य है। इसका एक अन्य उद्देश्य पारदर्शी एवं कुशल प्रशासन में सूचना प्रौद्योगिकी की भूमिका सुनिश्चित करना है। डिजिटल इंडिया कार्यक्रम में इस तरह के नवाचार किये जाना है जिनसे आम जन-जीवन को और अधिक बेहतर बनाया जा सके। मुख्य रूप से यह कार्यक्रम एक सेतु के रूप में काम करेगा। कार्यक्रम में डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर, माँग के आधार पर सेवाओं की पूर्ति एवं नागरिकों का डिजिटल सशक्तिकरण शामिल है। इसमें नेशनल ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क (NOFN) का अभियान शामिल है।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz