Posted On by &filed under राजनीति.


दिग्विजय सिंह 23 सितंबर से गोवा दौरे पर

दिग्विजय सिंह 23 सितंबर से गोवा दौरे पर

वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह अगले साल राज्य में होने वाले चुनाव से पहले तीन विधायकों के पार्टी छोड़ने की इच्छा को लेकर उठी अफवाहों के बीच 23 सितंबर से दो दिवसीय दौरे पर गोवा आएंगे।

एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने आज ‘पीटीआई भाषा’ को बताया, ‘‘सिंह 23 सितंबर को गोवा आ रहे हैं और वे सेवा दल के एक कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। अगले दिन, वह पार्टी नेताओं के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक में शामिल होंगे।’’ कांग्रेस के विधायक पंडुरंग मादकैकर और चंद्रकांत कवलेकर ने बताया कि उन्होंने आगामी चुनाव के दौरान महाराष्ठवादी गोमंतक पार्टी :एमजीपी: के साथ हाथ मिलाने को लेकर अपना ‘विकल्प खुला’ रखा है।

ऐसी भी अटकलें हैं कि कांग्रेस के विधायक विश्वजीत राणे पार्टी छोड़ सकते हैं और अपने संगठन सत्तारी युवा मोर्चा के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं।

पदाधिकारी ने बताया, ‘‘अपनी यात्रा के दौरान सिंह सभी नेताओं के साथ मुलाकात करेंगे। बातचीत का केन्द्र बिन्दु हाल में कांग्रेसी विधायकों के पार्टी छोड़ने के इरादे को लेकर खबरें सामने आने पर केन्द्रित रहेगा।’’ उन्होंने बताया कि पार्टी राष्ट्रीय महासचिव के दौरे के दौरान गठबंधन बनाने की संभावना पर भी बातचीत हो सकती है। उन्होंने बताया कि ‘गोवा चुनाव के लिए कांग्रेस के साथ गठजोड़ के वास्ते सामान विचारधारा रखने वाली कुछ पार्टियां पहले ही ऐसा प्रस्ताव दे चुकी हैं।’’ एमजीपी नेता सुदीन धवलिकर ने पहले की घोषणा कर रखी है कि वे मदकैकर से एमजीपी में शामिल होने और कुमभरजुआ सीट से चुनाव लड़ने के लिए बातचीत कर रहे हैं।

मदकैकर ने आज ‘पीटीआई भाषा’ को बताया, ‘‘मैं कांग्रेस में खुश नहीं हूं। मुझे एमजीपी से एक प्रस्ताव मिला है। लेकिन कुछ निर्णय लेने से पहले मैं अपने कार्यकर्ताओं से संपर्क करूंगा।’’ कवलेकर ने भी कहा कि अगला चुनाव जीतने के लिए कांग्रेस को बहुत कुछ करने की जरूरत है।

राणे की प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है लेकिन उनके करीबी सूत्रों ने दावा किया कि वह समान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ कांग्रेस के गठबंधन के निर्णय पर हो रही देरी को लेकर खुश नहीं हैं।

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz