Posted On by &filed under राजनीति.


कैराना में यदि पलायन हुआ है तो उसकी जांच होनी चाहिए : जेटली

कैराना में यदि पलायन हुआ है तो उसकी जांच होनी चाहिए : जेटली

केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज कहा कि भाजपा उत्तर प्रदेश चुनावों को ‘‘साम्प्रदायिक या ध्रुवीकृत’’ नहीं करना चाहती है, लेकिन यदि कैराना से ‘‘पलायन के कुछ साक्ष्य हैं’’ तो प्रदेश सरकार को इस मुद्दे पर ध्यान देना चाहिए।

जेटली ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पर भी निशाना साधा और आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी सिर्फ ‘‘मित्रवत’’ मीडिया संगठनों को विज्ञापन दे रही है, आलोचना करने वाले संगठनों को नहीं।

समाचार चैनल टाइम्स नाउ को दिए गए साक्षात्कार में भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि राम मंदिर को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में चुनावी मुद्दा नहीं बनाया जाएगा और और उनकी पार्टी सिर्फ वोट पाने के लिए प्रदेश का ध्रुवीकरण नहीं करना चाहती है।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कैराना गांव से कथित पलायन को लेकर बड़ा विवाद पैदा हो गया है, हालांकि राज्य के प्रशासन ने वहां किसी भी प्रकार के धार्मिक-पलायन पर सवाल उठाया है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम किसी भी प्रकार से चुनाव को साम्प्रदायिक या ध्रुवीकृत नहीं करना चाहते हैं, लेकिन यदि कैराना से पलायन होने के थोड़े भी साक्ष्य हैं, तो यह महत्वपूर्ण मुद्दा है और राज्य सरकार को इसपर ध्यान देना चाहिए।’’ क्षेत्र के कुछ भाजपा नेताओं द्वारा इस मुद्दे पर दिए गए बयान के बारे में पूछने पर, जेटली ने कहा कि यदि विधानसभा क्षेत्रों में कोई ‘‘स्थानीय स्थिति’’ उत्पन्न होती है, स्थानीय विधायक ‘‘उस स्थानीय मुद्दे पर प्रतिक्रिया देंगे ही’’ लेकिन पार्टी समेकित रूप से विस्तृत विचार रखेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि उत्तर प्रदेश में फिलहाल सबसे बड़ा मुद्दा शासन की गुणवत्ता और कानून-व्यवस्था का है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अंतत: सार्वजनिक रूप से जो भी बयान दिए गए हैं, वे सार्वजनिक ही हैं।’’ जेटली ने कहा, ‘‘लेकिन, मैं आपको सिर्फ यह बता सकता हूं कि अंतत: पार्टी के अध्यक्ष तय करते हैं कि किसी बात पर उसका रूख क्या होगा और इसलिए जहां तक बात उत्तर प्रदेश चुनाव से जुड़ी है..’’ उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि भाजपा अयोध्या में मंदिर बनाने को प्रतिबद्ध है, लेकिन पहले हुए चुनावों में भी हमने हमेशा कहा है कि हम उसे चुनावी मुद्दा नहीं बनाने वाले हैं। हमारे लिए यह चुनावी मुद्दे से कहीं बढ़कर है।’’

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz