आईआईईएसटी ने भारत की पहली स्मार्ट ग्रिड परियोजना स्थापित की

आईआईईएसटी ने भारत की पहली स्मार्ट ग्रिड परियोजना स्थापित की
आईआईईएसटी ने भारत की पहली स्मार्ट ग्रिड परियोजना स्थापित की

भारतीय अभियांत्रिकी विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थान :आईआईईएसटी: ने देश की पहली स्मार्ट ग्रिड परियोजना को सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया है जो उर्जा के नवीकरणीय स्रोतों से विद्युत उत्पन्न करेगी ।

आईआईईएसटी के निदेशक अजय कुमार रॉय ने पीटीआई-भाषा को बताया कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जल्द ही परियोजना का उद्घाटन करेंगे ।

रॉय ने बताया कि स्मार्ट ग्रिड सौर तथा हवा से और सब्जियों के कचरे जैसे संसाधनों से बिजली उत्पन्न करेगी । यह देश में अपनी तरह की पहली ग्रिड है ।

प्रोफेसर ने कहा, ‘‘सौर उर्जा से उत्पन्न की जाने वाली बिजली सूर्य के प्रकाश की उपलब्धता पर निर्भर करती है, जबकि पवन उर्जा कालबैसाखी और उष्णकटिबंधीय तूफान के दौरान उत्पन्न की जाएगी । बायोगैस से बनने वाली बिजली परिसर के रसोई और आसपास के बाजारों से एकत्रित सब्जियों के कचरे से बनाई जाएगी।’’

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: