अमेरिका और चीन में शीर्ष स्तर की वार्ता आज

नई दिल्लीः अमेरिका और चीन ट्रेड वॉर से बढ़ते तनाव के बीच पटरी से उतरी शीर्ष स्तर की वार्ता को एक महीने के बाद शुक्रवार को फिर से शुरू कर रहे हैं। इस बातचीत में व्यापार और सैन्य मुद्दों के विवाद को शांत करने को लेकर चर्चा हो सकती है। बता दें कि विश्व की 2 सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच ट्रेड वॉर से वैश्विक अर्थव्यवस्था पर नकारात्मक असर पड़ने की आशंका जाहिर की जा रही है। चीन पर इसका बुरा असर दिखने भी लगा है। जुलाई-सितंबर तिमाही में चीन की आर्थिक वृद्धि दर 6.5 प्रतिशत रही, जो पिछले 9 साल की सबसे धीमी दर है।

वॉशिंगटन में होने वाली यह बैठक ऐसे वक्त में हो रही है जब अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के एक सप्ताह बाद अर्जेंटीना में जी-20 समिट से इतर चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की उम्मीद की जा रही है।

दोनों ही पक्षों को बातचीत में प्रगति की उम्मीद है। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो और रक्षा मंत्री जिम मैटिस की शुक्रवार को चीन के 2 उच्च अधिकारियों से मुलाकात होनी है। इससे पहले पिछले महीने अमेरिका और चीन के बीच शीर्ष वार्ता खटाई में पड़ गई थी। पिछले महीने मैटिस को पेइचिंग का दौरा करना था लेकिन सैन्य तनाव बढ़ने की वजह से यह कार्यक्रम रद्द हो गया था। लेकिन इस बार चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेइ फेंग अमेरिकी रक्षा मुख्यालय पेंटागन पहुंच रहे हैं।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो की शुक्रवार को कम्युनिस्ट पार्टी के अहम अधिकारी यांग जीची के साथ मुलाकात होगी फिर दोनों संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे। बता दें कि यांग जीची की लंबे वक्त तक चीन की विदेश नीति को तय करने में अहम भूमिका रही है और वह पूर्व में वॉशिंगटन में राजदूत के तौर पर सेवा दे सकते हैं।

%d bloggers like this: