आज दिल्ली में 5 हजार शादियां 45 लाख से ज्यादा गाड़ियां होंगी सड़क पर

नई दिल्लीः शादी करने वाले जोड़ों के लिए सोमवार का दिन शुभ है। आज देव प्रबोधिनी एकादशी (देवोत्थान) है और यह शादी के लिए उत्तम मुहूर्त माना जाता है। इस मौके पर दिल्ली-एनसीआर में करीब पांच हजार शादियां होंगी। ऐसे में सड़कों और वैवाहिक स्थलों के आसपास के इलाकों में भारी भीड़ जुटेगी, जिससे यातायात व्यवस्था चरमरा सकती है।

ट्रैफिक पुलिस के अनुसार, फार्म हाउस, बैंक्वेट हॉल, समुदाय भवनों और पार्कों के आसपास शाम 5 बजे के बाद वाहनों की संख्या बढ़ेगी। इसलिए ऐसे वैवाहिक स्थलों के आसपास अतिरिक्त ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। स्थानीय पुलिस से इन स्थलों के आसपास की व्यवस्था बनाए रखने में ट्रैफिक पुलिस की मदद करने के निर्देश दिए गए हैं। प्रमुख चौराहों के अलावा वैवाहिक स्थलों को जोड़ने वाले मार्गों पर भी ट्रैफिक के अतिरिक्त इंतजाम किए गए हैं। ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को सलाह दी है कि जहां तक हो सके सार्वजनिक वाहनों का प्रयोग करें। साथ ही, अवैध पार्किंग न करें।

सीमा पर आवाजाही में ज्यादा दिक्कत : दिल्ली की सीमा पर देर शाम के बाद यातायात का अधिक दबाव होगा। सीमा पर पड़ने वाले बैंक्वेट हॉल और फार्म हाउस के आसपास जाम लग सकता है। बाहरी दिल्ली से करनाल जाने वाले जीटी करनाल रोड पर दो दर्जन फार्म हाउस व बैंक्वेट हॉल हैं। इसलिए यहां वाहनों की संख्या बढ़ेगी।

आम दिनों में वैसे ही रोड पर पंजाब व हिमाचल प्रदेश जाने वाले वाहनों की संख्या अधिक रहती है। पूर्वी दिल्ली के भौपुरा से साहिबाबाद जाते हुए हाईवे पर कई बैंक्वेट हॉल हैं। दक्षिणी दिल्ली से सटे सूरजकुंड रोड, पश्चिमी दिल्ली के झड़ौदा कलां, अलीपुर में कई मैरिज होम हैं।

45 लाख से ज्यादा वाहन होंगे सड़क पर
राजधानी में करीब एक करोड़ वाहन पंजीकृत हैं। एक अनुमान के मुताबिक, आम दिनों में दिल्ली की सड़कों पर करीब 30 से 35 लाख वाहन रहते हैं। 10 लाख वाहन एनसीआर से दिल्ली में आवाजाही करते हैं। ऐसे में शादियों का मुहूर्त होने के कारण सोमवार को इनकी संख्या 45 लाख के आंकड़े को पार कर सकती है। हफ्ते का पहला दिन होने के कारण भी सोमवार को वाहनों का दबाव होगा। साथ ही, व्यापार मेला भी आम लोगों के लिए खुल चुका है। इस कारण भी भीड़ रहेगी।

%d bloggers like this: