इस वजह से मनोहर पर्रीकर ने बीमार होने के बावजूद नहीं छोड़ा सीएम पद

नई दिल्ली : काफी समय से बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रीकर अपने पद से त्यागपत्र देना चाहते थे मगर भाजपा ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया. वे बीमारी के चलते इस पद को काफी समय से छोड़ना चाहते थे इस बात का खुलासा गोवा फॉरवर्ड पार्टी एक प्रमुख और राज्य के कृषि मंत्री विजय सरदेसाई ने किया है.सरदेसाई ने कहा कि, “जब वे गणेश चतुर्थी पर अस्पताल में भर्ती हुए थे तो उन्होंने अपने सभी मंत्रालय अन्य मंत्रियों को सौंपने की इच्छा जाहिर की थी. लेकिन उसके बाद भाजपा आलाकमान नें इसमें कई हस्तक्षेप किये. त्यागपत्र देना पूर्ण रूप से पर्रीकर के हाथ में नहीं था.
14 अक्टूबर को मिली थी अस्पताल से छुट्टी
बता दें कि मनोहर पर्रीकर अग्नेयाशय की बीमारी से पीड़ित हैं और नई दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती थे. उन्हें 14 अक्टूबर को छुट्टी दे दी गई थी. मीडिया से बातचीत में पर्रीकर ने बताया कि उनकी खराब सेहत के चलते सरकार के कामकाजों में खराब असर पड़ा है.

%d bloggers like this: