करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर बयान पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू फंसते नजर आ रहे हैं-पाकिस्तान ने सिद्धू के बयान को नकारा

नई दिल्लीः करतारपुर साहिब कॉरीडोर को लेकर दिए बयान को लेकर पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू फंसते नजर आ रहे हैं। इमरान खान के शपथ ग्रहण में पाकिस्तान गए सिद्धू ने वापस लौटने के बाद कहा था कि उन्होंने पाक आर्मी जनरल को इसलिए गले लगाया क्योंकि उन्होंने करतापुर साहिब कॉरीडोर खोलने की बात कही थी। अब पाकिस्तान की ओर से कहा गया है कि भारत से कॉरिडोर खोलने को लेकर कोई औपचारिक बातचीत नहीं हुई है।

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय से सवाल पूछा गया था कि खबरों के मुताबिक भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि भारत करतापुर साहिब कॉरीडोर खोलने के लिए पाकिस्तान से बातचीत के लिए तैयार है। लेकिन भारत पाकिस्तान की ओर आधिकारिक बातचीत का इंतजार कर रहा है, क्या पाकिस्तान ने भारत से कोई औपचारिक बातचीत की है? इसके जवाब में पाक विदेश मंत्रालय ने कहा कि अभी तक दोनों देशों के बीच इस मुद्दे पर कोई औपचारिक चर्चा नहीं हुई है।

नवजोत सिंह सिद्धू ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बातचीत की थी। मुलाकात के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, ”भारत सरकार का फर्ज बनता है कि 10 करोड़ नान का नाम लेने वाले भक्तों के लिए करतारपुर साहब के कॉरीडोर रूम खोलने के लिए रिक्वेस्ट भेजें। विदेश मंत्री ने कहा कि मैं ड्राफ्ट बनवा रही हूं और मैं चिट्ठी लिखूंगी. मुझे भारत सरकार बहुत से सकारात्मक व्यवहार की उम्मीद है। अगर यहां से रिक्वेस्ट जाती है और वहां से उस पर अलम होता है तो यह खबरों लोगों के भले का काम होगा।”

सिखों के पवित्र करतारपुर साहिब गुरुद्वारा के लिए रास्ता खुलवाने के लिए जल्द कार्रवाई का आग्रह लेकर पंजाब के पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू दिल्ली पहुंचे। सिद्धू ने पूर्व खेल मंत्री एमएस गिल के साथ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की। सूत्रों के मुताबिक, इस मुलाकात में सिद्धू को इस मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के तीखे सवालों का सामना करना पड़ा। केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर ने भी सिद्धू को फटकार की बात कही।

%d bloggers like this: