किसान और पुलिस के बीच हिंसक झड़प ,पुलिस ने आंसू गैसे के गोले और वाटर कैनन का किया इस्‍तेमाल

नई दिल्ली: कर्ज माफी और बिजली के दाम घटाने जैसी मांगों को लेकर किसान क्रांति पदयात्रा में शामिल किसानों ने 23 सितंबर को हरिद्वार से दिल्ली के लिए कूच किया था। इन ‌किसानों को बार्डर पर रोक ‌दिया गया। इसबीच ‌किसानों का प्रदर्शन ‌हिंसक हो गया। पु‌लिस ने आंसू गैस के गोले और पानी की बौछार की। ये किसान मंगलवार को गांधी जयंती पर राजघाट से संसद तक विरोध मार्च करने की तैयारी में थे। लिहाज़ा राजघाट और संसद के आस-पास भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों की इस यात्रा को देखते हुए दिल्ली की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है। जगह-जगह नाकेबंदी की गई है. कई इलाक़ों में धारा 144 लगा दी गई है। दिल्ली ट्रैफ़िक पुलिस ने एडवाइज़री भी जारी की है, जिसमें कई इलाक़ों में जाने से बचने की सलाह दी गई है। किसान क्रांति यात्रा के मद्देनज़र पूर्वी और उत्तर पूर्वी दिल्ली में कई जगहों पर धारा 144 लागू कर दी गई है यानी 5 से ज़्यादा लोगों के एक साथ खड़े होने पर पाबंदी है।

%d bloggers like this: