गठबंधन पर मायावती बोली – ‘बसपा सीटों के लिए भीख नहीं मांगेगी’

नई दिल्लीः बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा है कि चुनावी गठबंधनों के लिए उनकी पार्टी ने सम्मानजनक सीटें मिलने की शर्त रखी है। गठबंधन में बसपा सीटों के लिए भीख नहीं मांगेगी। गठबंधन नहीं होने पर अकेले अपने बलबूते चुनाव लड़ती रहेगी।

मायावती ने मंगलवार को दिल्ली में गुरुद्वारा रकाबगंज रोड स्थित बहुजन प्रेरणा केंद्र में बसपा संस्थापक कांशीराम को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धासुमन अर्पित किये। इस मौके पर उन्होंने कहा कि बसपा दलितों, आदिवासियों, पिछड़ों, मुस्लिम तथा अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों के साथ ही अपरकास्ट, गरीबों, मजदूरों, किसानों के सम्मान व स्वाभिमान से कभी समझौता नहीं कर सकती।

इसके लिए उन्हें कांग्रेस और भाजपा सरकारों से चाहे कितनी भी प्रताड़ना क्यों न झेलनी पड़े। बसपा न टूटेगी न झुकेगी। मायावती ने कहा कि बसपा हर सत्ता और षड्यंत्र का सामना करते हुए सत्ता की मास्टर चाबी प्राप्त करके ‘अपना उद्धार स्वयं करने’ के मिशनरी लक्ष्य को पाने का जीतोड़ प्रयास करती रहेगी। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही बसपा और इसके नेतृत्व को राजनीतिक तौर पर कमजोर करने के लिए हर तरह के हथकंडे का इस्तेमाल करती हैं। चुनाव के समय इनका यह प्रयास और अधिक विषैला हो जाता है। इससे सावधान रहने की जरूरत है।

%d bloggers like this: