गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने- ‘अहमदाबाद का नाम आम चुनाव से पहले बदला जा सकता है’

नई दिल्लीः गुजरात सरकार ने गुरुवार को कहा कि वह अहमदाबाद का नाम बदलकर कर्णावती करने पर विचार कर रही है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि लोकसभा चुनावों से पहले नाम बदला जा सकता है। वहीं, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि अहमदाबाद नाम दासता का प्रतीक है और इसे बदला जाना जरूरी है।

कुछ दिन पहले ही उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने इलाहाबाद का नाम प्रयागराज और मंगलवार को फैजाबाद का नाम अयोध्या करने की घोषणा की है। रूपाणी ने कहा, ‘जनता लंबे समय से अहमदाबाद का नाम कर्णावती करने की मांग कर रही है। सरकार इस मांग पर विचार कर रही है। यह पता लगाने के लिए परामर्श शुरू कर दिया गया है कि क्या हम इसे कानूनन कर सकते हैं। परामर्श के बाद हम ठोस कदम उठाएंगे।’ जब पूछा गया कि क्या यह काम लोकसभा चुनावों से पहले हो सकता है या बाद में होगा, तो उन्होंने कहा, ‘चुनावों से पहले।’

उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि हमने कानूनी मंजूरी और केंद्र से स्वीकृति समेत अन्य मंजूरियां प्राप्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। पटेल ने कहा, मौजूदा नाम दासता का प्रतीक है, जबकि कर्णावती नाम हमारे गौरव, आत्म-सम्मान, हमारी संस्कृति और स्वायत्तता को झलकाता है। मेयर बिजल पटेल ने कहा कि वह नाम बदलने के लिए प्रस्ताव लाने से पहले सरकार से दिशानिर्देश प्राप्त करेंगी।

%d bloggers like this: