छात्र संगठन के उत्पात के बाद जेएनयू में रुकी मतगणना

नई दिल्लीः जेएनयू में शुक्रवार शुरू हुई मतगणना देर रात ही रोकनी पड़ी। चुनाव समिति का आरोप है कि एक अध्यक्ष और जॉइंट सिकरेट्री पद के प्रत्याशी ने चुनाव समिति के साथ मारपीट की, चुनाव समिति की महिला सदस्यों के साथ मारपीट भी की है।

वाम संगठनों ने आरोप लगाया है कि देर रात एबीवीपी के उम्मीदवारों और कार्यकर्ताओं ने यह उत्पात मचाया है। देर रात सभी काउंसलर पदों में हार की सूचना से बौखलाए एबीवीपी समर्थकों ने मारपीट उर तोडफोड़ की है। फिलहाल एबीबीपी ने इस बारे में अभी तक कोई टिप्पणी नही दी है।

गौरतलब है कि जेएनयू छात्र संघ चुनाव के चार अहम पदों के लिए शुक्रवार को मतदान हुआ है। अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव और संयुक्त सचिव के पदों के लिए हुए इस चुनाव में 68 फीसदी वोटिंग हुई। चुनाव के परिणाम 16 सितंबर को घोषित किए जाएंगे। चुनाव में एबीवीपी, बापसा, एनएसयूआई, संयुक्त वाम मोर्चा, छात्र राजद और सवर्ण मोर्चा के बीच खासतौर से टक्कर मानी जा रही है।

ABVP का आरोप है कि JNUSU इलेक्शन में 1st राउंड काउंटिंग (साइंस स्कूल और अन्य स्पेशल सेन्टर) शुरू होने के समय ABVP के काउंटिंग एजेंट को बुलाए बिना चुनाव समिति के सदस्यों ने लेफ्ट के कार्यकर्ताओं के साथ काउंटिंग शुरू कर दिया है। चुनाव समिति के मेंबर्स और लेफ्ट दोनों मिलकर साजिश और धांधली कर रहे है। ऐसा चुनाव का हम नही मानते है। हमें काउंटिंग में नहीं बुलाया जा रहा है।

%d bloggers like this: