जीत के साथ सीरीज़ में वापसी करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

नई दिल्ली : भारतीय टीम शनिवार को पुणे में पांच स्पेशलिस्ट गेंदबाजों के साथ उतरी लेकिन उसे हार का सामना करना पड़ा. वेस्टइंडीज के खिलाफ मौजूदा दौरे पर यह उसकी पहली हार है.श्रृंखला अब भी 1-1 से बराबर चल रही है जबकि दो मैच खेले जाने बाकी हैं. विराट कोहली की टीम को अगर श्रृंखला में अजेय बढ़त बनानी है तो मुंबई के क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया में आज का मैच हर हाल में जीतना होगा. वेस्टइंडीज की टीम को पूरा श्रेय दिया जाना चाहिए जो टेस्ट श्रृंखला में लचर प्रदर्शन के बाद वापसी करने में सफल रही और मेजबान टीम को वनडे फॉर्मेट में कड़ी टक्कर दे रही है.

बल्लेबाज़ी है परेशानी:
मध्यक्रम के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी और महेंद्र सिंह धोनी की बल्ले से खराब फार्म का खामियाजा भी भारत को भुगतना पड़ रहा है. भारत को इंग्लैंड में अगले साल होने वाले एकदिवसीय विश्व कप से पूर्व सिर्फ 15 वनडे मैच और खेलने हैं और ऐसे में यह सिर्फ आज होने वाले मैच की समस्या नहीं है.टी20 टीम से बाहर किए जाने के बाद धोनी के पास अब फार्म में लौटने के लिए सीमित मौके बचे हैं.पुणे में अंबाती रायुडू (22) लय में आने में सफल रहे थे लेकिन दायें हाथ के इस बल्लेबाज को अगर चौथे नंबर पर अपनी जगह पक्की करनी है तो लगातार अच्छा प्रदर्शन करना होगा.