झोपड़ी में लगी आग, जिंदा जल गया मासूम

नई दिल्लीः भैय्या दूज के दिन शाहजहांपुर जिले के गढ़िया रंगीन थाना क्षेत्र के गांव भटिया में खाना बनाते समय झोपड़ी में आग लग गई। आग में फंसकर छह साल के बालक की मौत हो गई, जिससे गांव में हड़कंप मच गया।

पुलिस ने बालक के शव को पोस्टमार्टम को भेजा। सूरजपाल बेहद गरीब है। वह दिल्ली मजदूरी करने गया है। गांव में उसकी पत्नी राधा और बच्चे रहते हैं। शुक्रवार दोपहर करीब तीन बजे राधा चूल्हे पर खाना बना रही थी। इसी दौरान चूल्हे से उड़ी चिंगारी उसकी झोपड़ी पर गिरी और आग लग गई।

आग की लपटों को देख राधा बाहर की ओर भागी, लेकिन उसका छह वर्षीय बालक शिवसागर अंदर ही रह गया। झोपड़ी में फंसा शिवसागर भूंसे के ढेर की ओर भागा, लेकिन आग उधर भी पहुंच गई और शिवसागर आग की लपटों से घिर गया। ग्रामीणों ने बाल्टियों से पानी डालकर आग पर काबू पाया। तबतक शिवसागर की मौत हो चुकी थी।

सूचना पाकर एसडीएस, सीओ तिलहर, थानाध्यक्ष, विधायक प्रिंस भी मौके पर पहुंचे और राधा को ढांढस बंधाया। उन्होंने उसे प्रधानमंत्री आवास दिलाने व चार लाख की अर्थिक मदद दिलाने का आश्वासन दिया।

%d bloggers like this: