त्यौहार पर रेलवे का मास्टरप्लान, 16 करोड़ सीटों के लिए चलेंगी 41 विशेष ट्रेनें

नई दिल्लीः इंडियन रेलवे ने दावा किया है कि इस बार उसने त्योहारी मौसम में यात्रियों को उनके घर आने-जाने के लिए 16 करोड़ सीटें उपलब्ध कराने का मास्टर प्लान तैयार किया है। इनमें से एक बड़ा हिस्सा उन सीटों का भी है, जो बीते साल दीवाली के बाद नई ट्रेनों के चालू होने या फिर ट्रेनों के कोच बढ़ाने की वजह से उपलब्ध हुई हैं।

रेलवे ने बैठक में जो ब्योरा दिया है, उनमें 41 स्पेशल ट्रेनों के 449 ट्रिप लगाए जाएंगे जबकि 19 ट्रेनों की फ्रिक्वेंसी बढ़ाने से 136 ट्रेन ट्रिप एक्सट्रा लगेंगे। चूंकि सबसे अधिक भीड़ दिल्ली से जाने वाली ट्रेनों में होती है इसलिए उत्तरी रेलवे ट्रेनों के 10 रैक अतिरिक्त अपने पास रखेगा, ताकि जरूरत पड़ने पर ट्रेन चलाई जा सके। इसी तरह, रेलवे ने 10 अक्टूबर से 20 नवंबर के बीच 17 ट्रेनों के 942 अतिरिक्त ट्रिप की व्यवस्था की है। इससे ट्रेनों में 62 हजार से अधिक सीटें उपलब्ध होंगी।

इंडियन रेलवे के सूत्रों के मुताबिक दीवाली और छठ के दौरान यात्रियों की डिमांड पूरी करने के लिए अतिरिक्त ट्रेनें चलाने या फिर कोच बढ़ाने संबंधी व्यवस्थाएं करने के इरादे से रेलवे बोर्ड में मंगलवार को उच्चस्तरीय बैठक हुई। इस बैठक में रेलवे अधिकारियों की ओर से प्लान पेश किया गया, जिसमें बताया गया कि देश के अलग अलग हिस्सों से पूर्वी भारत की ओर आने जानेवाली ट्रेनों में उपलब्ध सीटों की संख्या जोड़ी जाए, तो एक माह में यह 16 करोड़ के आसपास है। आंकड़े में उन सीटों को शामिल नहीं किया गया है, जो अचानक भीड़ बढ़ने पर चलनेवाली अतिरिक्त ट्रेनों में उपलब्ध होंगी। ये ट्रेनें दिल्ली के अलावा चेन्नै, बेंगलुरु, जालंधर, सूरत, चंडीगढ़ आदि शहरों से पूर्वी उत्तरप्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल तक के लिए चलाई जाएंगी।

%d bloggers like this: