दिल्ली विश्वविद्यालय के रामानुजन कॉलेज में पांच फर्जी दाखिले

नई दिल्लीः डीयू के रामानुजन कॉलेज में फर्जी प्रमाणपत्र पर दाखिला लेने का मामला सामने आने के बाद कॉलेज प्रशासन ने पांच छात्रों के नामांकन रद्द कर दिए हैं। हालांकि, छात्रों का दावा है कि उन्होंने 12वीं की परीक्षा जिस बोर्ड से पास की किया है वह बोर्ड वैध है।

वहीं, कॉलेज प्रशासन का कहना है कि राजकीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान, उत्तर प्रदेश लखनऊ जैसा कोई बोर्ड वैध नहीं है, यही कारण है कि इन छात्रों का नामांकन रद किया गया है। सूत्रों के अनुसार, इस बोर्ड के करीब 38 छात्रों ने डीयू के विभिन्न कॉलेजों में दाखिला लिया है। इसमें से कॉलेज ऑफ वोकेशनल स्टडीज, भगत सिंह, देशबंधु सहित कई अन्य कॉलेज हैं।

रामानुजन कॉलेज के जिस छात्र का नामांकन रद हुआ है उसने बताया कि जिस बोर्ड से मैं 12वीं उत्तीर्ण हूं उसी बोर्ड से कई अन्य छात्र उत्तीर्ण हैं। उन्हें कई अन्य कॉलेजों में दाखिला मिला है। उनका नामांकन संबंधित कॉलेजों ने रद्द नहीं किया है। इस बाबत न केवल मैंने कॉलेज के प्रिंसिपल को बल्कि डीयू के डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर को भी अनुरोध किया है, लेकिन अब तक किसी तरह की सुनवाई नहीं की गई है। कॉलेज ने उसे डीयू के ओएसडी एडमिशन के पास भेज दिया है।

%d bloggers like this: