फिर शुरू हो सकता है राम मंदिर आंदोलनःविश्व हिंदू परिषद ने 5 अक्टूबर को 36 संतों की बैठक बुलाई

नई दिल्ली: अयोध्या में राम मंदिर को लेकर बड़ी खबर आई है। राममंदिर आंदोलन अक्टूबर महीने से फिर शुरू हो सकता है। विश्व हिंदू परिषद ने 5 अक्टूबर को 36 संतों की बैठक बुलाई है. इसके लिए संतो की समिति 5 अक्टूबर को राममंदिर निर्माण के लिए कार सेवा का एलान कर सकती है। विश्व हिंदू परिषद ने 5 अक्टूबर को संतो की उच्चाधिकार समिति की बैठक बुलाई है, संतो की इस समिति में देश भर के 36 प्रमुख संतो को आमंत्रित किया गया है।

इस समिति के प्रमुख राम मंदिर आंदोलन के मुख्य महंत नृत्य गोपाल दास है, सूत्रों के मुताबिक संतो की बैठक के लिए विश्व हिंदू परिषद ने सभी संतो को पत्र जारी किया है और राम मंदिर निर्माण के लिए निर्णय लेने के लिए बैठक का न्योता भेजा है. बैठक दिल्ली में होगी। सूत्रों के मुताबिक संतों की इस बैठक में राम मंदिर निर्माण के लिए आंदोलन करने का फैसला लिया जाएगा। आंदोलन के लिए देश भर से हिंदुओ को कार सेवा कर राम मंदिर निर्माण के लिए भाग लेने का आग्रह किया जाएगा।

राम मंदिर पर वीएचपी के सुरेंद्र जैन ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का कब तक इंतजार किया जा सकता है। जब इस विषय पर इतना विलंब हो चुका है तो हमने इस आंदोलन के लिए हमारी आगे की क्या नीति हो इसके लिए संतों की बैठक 5 अक्टूबर को बुलाई है। जब सुप्रीम कोर्ट की तरफ से इस फैसले को लेकर इतनी देरी की जा चुकी है तो हमने इस दिशा में कुछ ठोस कदम उठाने का फैसला किया है।

2 दिन पहले ही आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने भी राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया था कि इस विषय पर अध्यादेश लाए जाने पर विचार किया जाना चाहिए। मोहन भागवत ने कहा था कि राम जन्मभूमि पर राम मंदिर जल्दी बनना चाहिए। इस मामले को और लटकाया नहीं जाना चाहिेए।

%d bloggers like this: