बसपा सुप्रीमो मायवती को सौंपी जाए विपक्षी गठबंधन की कमान : चंद्रशेखर आजाद

नई दिल्ली: जहां एक तरफ बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने भीम आर्मी को पूर्ण रूप से खारिज करते हुए उसे भारतीय जनता पार्टी का एजेंट करार दिया है वहीँ भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद उर्फ़ रावण ने आगामी लोकसभा चुनाव में बसपा के पक्ष में माहौल बनाने की बात कही है.
इसके साथ ही चंद्रशेखर आजाद ने आगामी लोकसभा चुनाव में विपक्षी गठबंधन की कमान बसपा सुप्रीमो मायावती को देने की बात कही है बावजूद इसके कि मायावती उनकी पार्टी को हमेशा से ही भाजपा का एजेंट बताती आई हैं.चंद्रशेखर आजाद ने कहा है कि बीते दिनों गोरखपुर और फूलपुर चुनावों में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने मिलकर भाजपा को धूल चटा दी थी. आजाद का कहना है कि वे कोशिश करेंगे कि विपक्षी गठबंधन में राष्ट्रीय लोक दल और कुछ अन्य पार्टियों को शामिल करने की कोशिश करेंगे. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं होता है तो वे बहुजन मूवमेंट की तरफदारी करेंगे.चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि उनकी भीम आर्मी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगी मगर भाजपा को हराने के लिए और उनकी पराजय सुनिश्चित करने के लिए उनकी पार्टी पूरा दम लगाएगी.

बीते दिनों आजाद अयोध्या दौरे पर थे इस पर उन्होंने कहा कि वे अयोध्या इस लिए गए थे क्योंकि उनको जानकारी मिली थी कि अयोध्या में विश्व हिन्दू परिषद् की धर्मसभा और शिवसेना के कार्यक्रम के कारण वहां के लोग डरे सहमे हुए हैं.

%d bloggers like this: