बाघ के हमले से हुई युवक की मौत, गुस्साए ग्रामीणों ने लगाया जाम

नई दिल्ली :पिपरिया धनी- बन चौक (उत्तरप्रदेश)महेशपुर रेन्ज के अन्तर्गत अयोध्या पुर निबासी कंधई लाल (45)पुत्र दौलत राम को बाघ ने हमला करके घायल कर दिया। गुस्साए ग्रामीणों ने महेशपुर ने तोड़फोड़ की व गाड़ियां चला दी व चौकी से पिंजड़े हटाकर रोडों पर लगा कर जाम लगा दी 
आग बुझाने के लिए आई फायर ब्रिगेड के आगे खड़े होकर गुस्साए ग्रामीणों ने आग बुझाने नहीं दी मौके पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी विजय आनंद व मोहम्मदी कोतवाल दिलेश सिंह भारी मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड को आग भुझाने के लिए ग्रामीणों ने आगे बढ़ने दिया।थाना हैदराबाद की पुलिस पहले से ही भी मौके पर मौजूद थी|

इलाज के लिए नहीं भेजा जिससे कंधई लाल के शरीर में जहर फैलता चला गया जब तक घायल को02:00लखीमपुर सीएससी भेजा वहां भी घायल को जवाब दे दिया गया उसके बाद लखनऊ ले जाते समय उसी रास्ते में ही मौत हो गई । सुबह 11:00 बजे लगभग बाघ ने किया था हमला अगर समय पर हो गया होता किला तो बच सकती थी कंधई लाल की जान। वही ग्रामीणों का कहना है घटना की जानकारी मिलने के बाद 2 घंटे बाद भी नहीं पहुंचे थे रेंजर साहब जब घायल को उठाकर चौकी के सामने लाए तो उन्होंने अपने सिपाहियों से कहकर ग्रामीणों पर बंदूक तनवादी उसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा सर के ऊपर हो गया और उन्होंने रोड पर जाम लगाया । क्षेत्र में पहले भी कई बार देख जा चुका है बाघ । ग्रामीणों का कहना है कि जानकारी रेंजर साहब को थी फिर भी कोई सतर्कता बरतने के लिए क्यों पीछे हट रहे थे रेंजर साहब। गुस्साए ग्रामीण हजार की आबादी से सड़क पर उतर पड़े ग्रामीणो का थमा नहीं गुस्सा। चौकी में रखी हर चीज का विनाश कर डाला वन चौकी को आग के हवाले कर दिया।

वहीं क्षेत्राधिकारी विजय आनंद व कोतवाल दिलेश सिंह ने ग्रामीणों से शांत रहने के लिए कहा। इससे पहले भीड़ ने चलाई थी पुलिसकर्मियों पर भी लाठियां ग्रामीणों ने आरोप लगाया की सिपाही ने हम लोगों पर बंदूक तान दी थी लेकिन पूछने पर उसका नाम बताने से इंकार कर दिया कहा हम उसको नाम से नहीं जानते हैं रेंजर से भड़की जनता चौकी में तोड़फोड़ करने के दौरान मीडिया कर्मियों को वीडियो व फोटो लेने से मना किया कहा अगर वीडियो व फोटो ली तो तोड़ देंगे मोबाइल|

मौजूदा विधायक अरविंद गिरी के भाई अजय गिरी उर्फ सफल्लू ने पीड़ित परिवार को सांत्वना के लिए 10000 धन की राशि दी । मौके पर पहुंचे एसडीएम अखिलेश कुमार पीड़ित परिवार को समझाया ।

मोहम्मदी थाना प्रभारी दिलेश सिंह ने बताया कि यह जो अजय गिरी ने धनराशि दी है वह पीड़ित परिवार के लिए सरकारी राशि नहीं है। सरकारी राशि आप लोगों को दी जाएगी यह राशि अजय जी अपनी तरफ से दे रहे हैं।पीड़ित परिवार को अरविंद गिरी के भाई अजय गिरी , एसडीएम अखिलेश कुमार, क्षेत्राधिकारी विजय आनंद ने सांत्वना देने के बाद लगभग 3:15 बजे जाम खोल दी गई व लोग रास्ते से हट गए। गांव के लोगों ने आरोप लगाया कि वन विभाग की लापरवाही से ही कंधई लाल की मृत्यु हुई है ।

जाम खुलने के बाद जगह का मुआयना करने पहुंचे एसपी घनश्याम चौरसिया। वहां का हाल जाना वह कहां की दोषियों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

 

%d bloggers like this: