बिहार के एक स्कूल के प्रिंसिपल और क्लर्क पर छात्रा से रेप का आरोप

नई दिल्लीः पटना में गुरु-शिष्य के रिश्ते को तार-तार करने वाली घटना सामने आयी है। फुलवारीशरीफ के एक स्कूल के प्राचार्य सह संचालक और शिक्षक ने मिलकर अपने ही स्कूल की 12 वर्षीया छात्रा के साथ दो माह तक दुष्कर्म किया। प्राचार्य और शिक्षक कॉपी जांचने और नंबर बढ़ाने के नाम पर दुष्कर्म कर रहे थे। छात्रा जब दो सप्ताह की गर्भवती हो गई तब परिजनों को इसकी जानकारी हुई। पूछताछ में यह भी सामने आया है कि बच्ची के साथ एक महीने से प्राचार्य और अभिषेक कुमार मिलकर दुष्कर्म कर रहे थे। प्राचार्य ने रेप का वीडियो भी बना लिया था। उसके बाद वह बच्ची को ब्लैकमेल करता रहा।

परिजन फुलवारीशरीफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचे। पुलिस ने आनन-फानन आरोपित प्राचार्य अरविंद कुमार उर्फ राज सिंघानिया और शिक्षक अभिषेक कुमार को गिरफ्तार कर लिया। दोनों को महिला थाने के सुपुर्द किया गया है। महिला थाने में रेप और पॉक्सो एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। दोनों आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। गुरुवार को बच्ची का बयान कोर्ट में दर्ज कराया जाएगा।

बच्ची उल्टी करने लगी तब पता चला
परिजनों का कहना था कि दो दिन पहले बच्ची चक्कर खाकर घर में गिर गई और उल्टी करने लगी। उसकी मां बच्ची को लेकर अस्पताल गयी। डॉक्टरों ने जांच की तो पता चला कि बच्ची गर्भवती है। यह सुनते ही मां बदहवास होकर जमीन पर गिर गई।

दुष्कर्म का वीडियो बना करता रहा ब्लैकमेल
पूछताछ में बच्ची ने बताया कि प्राचार्य अरविंद कुमार उर्फ राज सिंघानिया सर कॉपी जांच करने के बहाने अपने केबिन में बुलाते थे। सहायक शिक्षक और क्लर्क का भी काम देखने वाला अभिषेक उसे जबरन प्राचार्य के केबिन में ले जाता था। केबिन के बगल में एक कमरा था। उस कमरे में दोनों गलत काम करते थे। बच्ची के साथ एक महीने से प्राचार्य और अभिषेक कुमार मिलकर दुष्कर्म कर रहे थे। प्राचार्य ने रेप का वीडियो भी बना लिया था। उसके बाद वह बच्ची को ब्लैकमेल करता रहा।

%d bloggers like this: