भयंकर प्रदूषण की चपेट में दिल्ली-NCR

नई दिल्लीः बीते कुछ दिनों से पूरी दिल्ली जहरीली हवा की चपेट में आ गई है। राजधानी का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) गुरुवार को 315 दर्ज किया गया जो बेहद गंभीर माना जाता है। सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के मुताबिक, आगामी दिनों में दिल्ली का एक्यूआई और खराब रहेगा। सफर के अनुसार, गुरुवार को दक्षिणी दिल्ली का मथुरा रोड वाला क्षेत्र सबसे प्रदूषित रहा। इस क्षेत्र में पीएम 2.5 सबसे अधिकतम 379 दर्ज किया गया। दूसरे स्थान पर उत्तरी दिल्ली का धीरपुर क्षेत्र रहा। यहां पीएम 2.5 का स्तर 363 दर्ज किया गया। सबसे कम प्रदूषण मध्य दिल्ली के पूसा रोड पर दर्ज हुआ। यहां पीएम 2.5 का स्तर 124 दर्ज किया गया।

वाहन दबाव वाले क्षेत्र में अधिक प्रदूषण : सफर के निदेशक गुरुफान बेग के अनुसार, जिन क्षेत्रों में वाहनों का दबाव अधिक है और औद्योगिकी इकाइयां संचालित होती हैं, वहां प्रदूषण अधिक मिला। इसके पीछे ठंड का बढ़ना प्रमुख कारण है। ठंड की वजह से नमी बढ़ती है और प्रदूषण के कण नमी के संपर्क में आने के बाद नीचे रह जाते हैं। इस कारण प्रदूषण बढ़ता है।

%d bloggers like this: