‘भागवत भगवान हैं क्या, देश को संगठित करने वाले वो होते कौन हैं?’-राहुल गांधी

नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने राजधानी दिल्ली में आयोजित बुद्धजीवियों के साथ संवाद कार्यक्रम में कहा है कि भागवत भगवान नहीं हैं। वह देश को संगठित करने वाले कौन होते हैं? उन्होंने यह भी कहा कि देश को किसी एक विचार से नहीं चलाया जा सकता।

राहुल गांधी ने कहा, ‘’अपने भाषण में मोहन भागवत ने कहा, ‘हम राष्ट्र को संगठित करने जा रहे हैं.’ वो देश को संगठित करने वाले कौन होते हैं? देश खुद अपने को संगठित करेगा। अगले कुछ महीनों में उनका सपना चकनाचूर हो जाएगा।’’ उन्होंने कहा, ‘’आरएसएस का जो पूरा आक्रमण है उसके पीछे वित्तीय फायदा बहुत बड़ा है। ये संस्थानों पर कब्जा करके पैसा बनाना चाहते हैं।’’

इस दौरान राहुल ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘’अमित शाह ने भारत के लिये कहा ‘ये सोने की चिड़िया है’, यानी वो भारत को एक प्रोडक्ट के तौर पर देखते हैं, ये आरएसएस और बीजेपी का दृष्टिकोण है।’’ उन्होंने कहा, ‘’हम आरएसएस की तरफ से ‘सोने की चिड़िया’ पर कब्ज़ा करने की कोशिश के खिलाफ लड़ रहे हैं। शिक्षण संस्थान, सुप्रीम कोर्ट, चुनाव आयोग इन सभी पर धीरे-धीरे कब्जा किया जा रहा है।’’

%d bloggers like this: