भारत बंद का कहर : जहानाबाद में बंद की वजह से नहीं मिली एंबुलेंस, बीमार बच्ची की मौत

नई दिल्लीः पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस के भारत बंद का असर आज सुबह से ही देखा जा रहा है. जगह-जगह विपक्षी दल मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। इस मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी राजघाट से रामलीला मैदान तक पैदल मार्च निकाला। मार्च में आरजेडी, आप, एनसीपी समेत कई दलों के नेताओं ने शिरकत की।


विपक्षी दलों ने कहीं गाड़ियां तो कहीं ट्रेन रोक दी है। कांग्रेस का दावा है कि इस बंद में 21 विपक्षी पार्टियां साथ है। हालांकि ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और बीजू जनता दल (बीजेडी) ने भारत बंद से दूर रहने का फैसला किया है। एनसीपी, डीएमके, जेडीएस, आरजेडी, वामदल, एमएनएस जैसी पार्टियां आज प्रदर्शन कर रही है। पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ने कहा है कि जिन मुद्दों पर बंद बुलाया जा रहा है, वह उस पर साथ है, लेकिन पार्टी सुप्रीमो और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की घोषित नीति के मुताबिक वह राज्य में किसी तरह की हड़ताल के खिलाफ है।

बिहार के जहानाबाद में कथित तौर पर बंद की वजह से नहीं मिला एंबुलेंस, बीमार बच्ची की मौत। एसडीओ ने दावों को खारिज किया। कहा- बंद की वजह से बच्ची की मौत नहीं हुई है।

%d bloggers like this: