भारत सरकार स्वच्छता पर महात्मा गांधी के दृष्टिकोण पर विश्वास करती है: निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली: रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को यहां कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार स्वच्छता पर महात्मा गांधी के दृष्टिकोण पर विश्वास करती है और इसे साकार करने की दिशा में काम कर रही है। मंत्री ने कहा, “गांधीजी ने कहा था कि स्वच्छता स्वतंत्रता से ज्यादा जरूरी है। सरकार बापू के इस दृष्टिकोण में विश्वास रखती है।”
उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के 72 वर्षो के बाद और स्वच्छता व निजी स्वच्छता पर पूर्ववर्ती सरकारों द्वारा लांच किए गए कार्यक्रम के बावजूद इस दिशा में ज्यादा प्रगति हासिल नहीं हुई।

उन्होंने कहा, “इसलिए महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के सपने को साकार करने के लिए, स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की गई।” उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान दो अक्टूबर, 2014 को सरकार द्वारा लांच किया गया अबतक का सबसे बड़ा जन अभियान है, जिसमें सरकार, कर्मचारियों और छात्रों ने स्वेच्छा से भाग लिया।रक्षा मंत्रालय के अधीन 62 छावनी बोर्ड ने सक्रिय रूप से इस वर्ष 15 सितंबर से दो अक्टूबर तक ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान में भाग लिया।

26 queries in 0.226
%d bloggers like this: