मनमोहन सिंह ने कहा -किसान कर्ज के बोझ से दबे, नहीं मिल पा रहा फसल का उचित दाम

नई दिल्लीः पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज (बुधवार) केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि किसान कर्ज के बोझ से दबे हैं, उन्हें फसल का उचित दाम नहीं मिल पा रहा है।

न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान इस बात की गवाही देंगे कि मेरी पूर्ववर्ती सरकार ने मध्यप्रदेश से कभी भेदभाव नहीं किया। उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार जनता से किए वादे निभाने में नाकाम रही है। मध्यप्रदेश में व्यापमं महाघोटाला हुआ है। राज्य की भाजपा सरकार पर्याप्त रोजगार पैदा करने में नाकाम रही है।

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि सरकार का हर साल दो करोड़ नौकरियां देने का वादा सिर्फ जुमला बन कर रह गया है। वहीं, केंद्र सरकार के राज में बड़े राष्ट्रीय संस्थानों पर कब्जा करने की कोशिश की जा रही है। लोकतंत्र और कानून का राज खतरे में है।

वहीं, उन्होंने कहा कि मोदी सरकार राफेल मामले की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति नहीं बना रही है जिससे लगता है कि दाल में कुछ काला है। नोटबंदी और जीएसटी पर बोलते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि नोटबंदी और खामीयुक्त GST से असंगठित क्षेत्र को बहुत नुकसान हुआ है।

%d bloggers like this: