मोहन भागवत बोले- हम नहीं चलाते सरकार

0
285

नई दिल्लीः राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने मंगलवार को कहा संविधान का पालन करना सबका कर्तव्य है। ये संघ भी मानता है। उन्होंने ‘भविष्य का भारत’ विषय पर दूसरे दिन के संबोधन में कहा कि हमने देश के संविधान को स्वीकार किया है। संविधान के सम्मान नहीं करने का प्रश्न ही नहीं उठता। हम सब संविधान से बंधे हैं। संविधान को मानकर ही संघ चलता है। संविधान और कानून के खिलाफ हमने कुछ किया है इसका उदाहरण नहीं है। ये बात पक्की है।

हमारे संविधान को देश के मूर्धन्य और विचारवान लोगों ने मिलकर सहमति से तैयार किया था। साथ ही उन्होंने कहा कि संघ प्रमुख ने कहा कि सरकार के कामकाज को लेकर लोग कयास लगाते हैं नागपुर से फोन जाता होगा यह बिल्कुल गलत बात है।

संघ प्रमुख ने अपने व्याख्यान में संविधान की पूरी प्रस्तावना को अंग्रेजी में पढ़ा। उन्होंने कहा कि डॉक्टर अंबेडकर ने संविधान सभा के भाषण में कहा था, हमारे आपस की लड़ाई के कारण ही विदेशी जीते और हमें गुलाम बनाया। हम सब एक हैं ये बंधुभाव हमने उत्पन्न नहीं किया तो हमें फिर से बुरे दिन देखने पड़ सकते हैं।