राजस्थान :बेरोजगारी से तंग आए चार युवकों ने ट्रेन के आगे लगाई छलांग

नई दिल्लीः राजस्थान में बेरोजगारी का एक भयानक चेहरा सामने आया है। राज्य में नौकरी न मिलने से निराश 4 युवकों ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। इनमें से 3 युवकों की मौके पर मौत हो गई है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार इन युवकों ने कहा कि नौकरी नहीं लगेगी तो फिर जिंदा रहकर क्या करेंगे? अलवर जिले के 6 दोस्तों ने नौतरी न मिलने से परेशान होकर आत्महत्या करने की योजना बनाई थी।

योजना बनाने के बाद चार लोग शहर के एफसीआई गोदाम के पास ट्रेन के आगे कूद गए। जिसमें से 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। एक की हालत गंभीर है। बाकी दो दोस्तों ने आखिरी समय पर आत्महत्या करने के लिए ट्रेन के आगे कूदने का विचार बदल दिया। पुलिस बचे हुए दो लोगों से पूछताछ कर रही है।

आत्महत्या करने वाले युवकों में से एक सत्यनारायण मीणा ने घटना से कुछ घंट पहले ‘माही द किलर’ नाम का हत्या का एक वीडियो अपलोड किया था। वीडियों में उसकी हत्या का दृश्य है। एसपी राजेंद्र सिंह के अनुसार रानी के बालो को कलां निवासी 24 साल के मनोज मीणा, बुचीपुरी निवासी 22 साल के सत्य नारायण मीणा, बरेला निवासी 17 साल के राज मीणा, टोडाभीम के खेड़ी निवासी 22 साल के अभिषेक मीणा अलवर में पढ़ाई कर रहे थे।

चारों दोस्त अपने दोस्तों संतोष और राहुल मीणा के साथ मिलकर अलवर जिले के श्याम रेलवे ट्रैक के पास बैठकर बातचीत कर रहे थे। इसी दौरान सभी 6 दोस्तों के दिमाग में यह बात आई कि बिना नौकरी के जिंदगी गुजारना मुश्किल है। इसके बाद सभी ने मरने का फैसला किया। 6 में से 4 ट्रेन के आगे कूद गए जबकि 2 ने आखिरी समय पर अपना विचार बदल लिया। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

%d bloggers like this: