राममंदिर निर्माण को लेकर आज से संत करेंगे आमरण अनशन

नई दिल्ली : अयोध्या स्थित विवादित श्रीरामजन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के लिये सोमवार से संत-धर्माचार्य छावनी मंदिर पर आमरण अनशन पर बैठेंगे।

श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास ने रविवार को छावनी मंदिर रामघाट पर शिलापूजन के बाद कहा कि कल से तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास यहीं पर मंदिर निर्माण के लिये आमरण अनशन शुरू करेंगे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार से रामभक्तों की आशा अब टूट चुकी है, इसलिये संत-धर्माचार्य आमरण अनशन शुरू करेंगे।मुख्य पुजारी ने कहा कि उच्चतम न्यायालय के आदेश को दरकिनार कर एससी/एसटी एक्ट पर कानून बन सकता है तो फिर अयोध्या में विवादित श्रीरामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण का कानून क्यों नहीं बनाया जा सकता।

उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि भारतीय जनता पार्टी जल्द से जल्द राम मंदिर का निर्माण कराये अन्यथा आगामी लोकसभा चुनाव 2019 में इनका हश्र वही होगा जो काँग्रेस का हुआ था। मंदिर निर्माण के लिये रामभक्त अपने प्राणों की बलि देने के लिये आज भी पूरी तरह तैयार हैं।

आचार्य सत्येन्द्र दास ने कहा कि देश के रामभक्त ही भाजपा को सत्ता में लाए है और भाजपा ने वादा भी किया था कि केंद्र और उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने पर राम मंदिर का निर्माण अवश्य करायेंगे। अगर 2019 तक रामजन्मभूमि पर मंदिर बनना शुरू नहीं हुआ तो इसका खामियाजा केंद्र की मोदी सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को भुगतना पड़गा।

%d bloggers like this: