राम मंदिर पर बोले कपिल सिब्बल का बयान – ‘पिछले चार साल तक क्या बीजेपी सो रही थी?’

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले पर सुनवाई का फैसला अब जनवरी में होगा। लेकिन, राम मंदिर का मुद्दा जोर शोर से उठाया जा रहा है। एक तरफ जहां केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि अब हिन्दुओं का सब्र अब टूट रहा है और मुझे भय है कि सब्र टूटा तो क्या होगा। तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने राम मंदिर को लेकर बीजेपी पर हमला बोला है।

चार वर्षों से क्या बीजेपी से रही थी?

राम मंदिर पर कपिल सिब्बल ने मंगलवार को कहा कि अयोध्या केस की सुनवाई का फैसला कोर्ट करेगा। इसे बीजेपी या कांग्रेस नहीं करेगी। अगर वे कानून बनाना चाहते हैं तो बनाएं। कांग्रेस उन्हें नहीं रोकेगी। चुनाव को देखते हुए यह मुद्दा उठाया गया। क्या वे पिछले चार वर्षों से सो रहे थे।

क्या कहा था केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने राम मंदिर मुद्दे को लेकर सोमवार को एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने कहा है कि अब हिन्दुओं का सब्र टूट रहा है। गिरिराज सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा है कि यह हमारे देश का दुर्भाग्य है कि 1947 के बाद हिन्दूओं को प्रताड़ित किया गया। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु धर्म के आधार पर हिन्दुस्तान के बंटवारे के बाद राम मंदिर बनवा सकते थे लेकिन उन्होंने वोट बैंक कि खातिर इसे विवादित बना दिया, लेकिन अब हिन्दुओं का सब्र टूट रहा है।

ट्विटर पर दिये गिरिराज सिंह के इस बयान को लेकर तेजस्वी यादव ने पलटवार करते हुए ट्वीट किया, कहा- किसी का सब्र नहीं टूटा है, ठेकेदार मत बनिए, हमसे बड़े हिन्दू नहीं हैं आप। आपको चुनाव का डर है।

%d bloggers like this: