शिकागो में विश्व हिंदू कांग्रेस में मुख्य वक्ता होंगे मोहन भागवत

नई दिल्ली : स्वामी विवेकानंद द्वारा शिकागो की विश्व धर्म सभा में दिए गए भाषण की 125वीं वर्षगांठ के अवसर पर शिकागो में सात से नौ सितंबर को होने जा रहे विश्व हिंदू कांग्रेस में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से दस से ज्यादा लोग हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत मुख्य वक्ता के तौर पर संबोधित करेंगे। कार्यक्रम के अंतिम दिन उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का संबोधन होगा।विश्व हिंदू इकोनॉमिक फोरम के उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के संयोजक अजय गुप्ता ने यह जानकारी दी। यह कार्यक्रम स्वामी विवेकानंद द्वारा शिकागो की विश्व धर्म सभा में दिए गए भाषण की 125वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित किया जा रहा है। विश्व हिंदू कांग्रेस में 80 देशों से 2,500 से ज्यादा प्रतिनिधियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।
अजय गुप्ता ने कहा, ‘विश्व हिंदू कांग्रेस का मकसद हिंदू समाज को एकजुट करना है। साथ ही समाज के हितों का ख्याल रखना और दुनिया के अन्य वंचित, हाशिए पर रहने वाले समुदायों की मदद करना है।’ उन्होंने बताया कि यह सम्मेलन न तो धार्मिक है और न ही दार्शनिक है। सम्मेलन में समुदाय से जुड़े मुद्दों पर जोर दिया जाएगा। इसमें उन मुद्दों पर जोर दिया जाएगा जो आधुनिक समय में किसी भी समुदाय की प्रगति के लिए प्रासंगिक हैं।

%d bloggers like this: