सबसे ऊंची मूर्ति अयोध्या में भगवान श्रीराम की लगेगी

नई दिल्लीः अब दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति भगवान श्रीराम की अयोध्या में स्थापित की जाएगी। यह सरदार वल्लभभाई पटेल की गुजरात में लगी मूर्ति से भी ऊंची होगी। दिवाली पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसकी घोषणा कर सकते हैं।

सूत्रों के अनुसार सरदार वल्लभभाई पटेल की मूर्ति पैडस्टल सहित 182 मीटर की है। यह अभी दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति है। इस पर 2,989 करोड़ रुपये खर्च हुए। अयोध्या में भगवान श्रीराम की मूर्ति सरदार बल्लभ भाई पटेल की मूर्ति का भी रिकार्ड तोड़ेगी। भगवान श्रीराम की मूर्ति की स्थापना का प्रस्ताव एक बैठक में रखा जा चुका है। हालांकि इसके शिलान्यास का अभी कार्यक्रम तय नहीं हुआ है, लेकिन इसको लगाने की घोषणा मुख्यमंत्री कर सकते हैं। इस मूर्ति पर और ज्यादा खर्च आने की संभावना है।

भगवान श्रीराम की इस मूर्ति की कुल ऊंचाई पैडस्टल सहित 201 मीटर की होगी। इसमें 151 मीटर की मूर्ति होगी और 50 मीटर का पैडस्टल होगा। खास बात यह है कि यह कांसे की बनाई जाएगी। सूत्रों के अनुसार पहले भगवान श्रीराम की मूर्ति को अयोध्या में श्रीराम लला के मंदिर की तरफ मुंह करके लगाने का प्रस्ताव था। लेकिन अब ज्योतिषियों की सलाह पर मूर्ति का मुंह पूर्व-उत्तर रखा जाएगा। ऐसा इसलिए क्योंकि वास्तु के हिसाब से पूर्व और उत्तर की दिशा को ईशान कोण यानी ईश्वर का कोना कहा गया है। कहते हैं कि इस स्थान पर ईश्वर का वास होता है।

जहां तक भगवान श्रीराम और हनुमान जी की मूर्ति का सवाल है, ये मूर्तियां बनकर लगभग तैयार हैं। इसे दिवाली और प्रयागराज कुंभ के कारण अयोध्या आने वाले पर्यटकों और श्रद्धालुओं के लिए दर्शनीय बनाने की तैयारी है। भगवान श्रीराम और हनुमान जी की मूर्तियां स्वयं अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने उपलब्ध कराई हैं।

%d bloggers like this: