सीबीआई डायरेक्टर की याचिका पर बोले अरुण जेटली, निष्पक्ष जांच हो और सच्चाई बाहर आए

नई दिल्लीः केंद्रीय जांच एजेंसी में मचे घमासान में बीच आज सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई डायरेक्टर की उस याचिका पर सुनवाई की जिसमें उन्होंने उनके अधिकार वापस लेने और उन्हें छुट्टी पर भेजे जाने के केंद्र सरकार के फैसले को चुनौती दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने इस केस की जांच सीवीसी को सौंपी है और दो हफ्ते के अंदर रिपोर्ट मांगी है। अब अगली दिवाली के बाद 12 नवंबर को होगी। सुप्रीम कोर्ट के इस निर्देश के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली का भी बयान सामने आया है। जेटली ने कोर्ट के आदेश को अत्यंत सकारात्मक घटनाक्रम करार दिया है।

जेटली ने कहा, बीते दिनों जो भी सीबीआई में हुआ उस पूरे घटनाक्रम से उसकी प्रतिष्ठा धूमलि हुए है। इसलिए इसकी सच्चाई बाहर आनी चाहिए। सच्चाई बाहर आना देश के हित के लिए बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा, एक ही केस में एजेंसी और डायरेक्टर का एक मत था और स्पेशल डायरेक्टर दूसरा मत था। ये मामला भ्रष्टाचार का था और इसमें एजेंसी के दोनों बड़े नेता ही शिकार हो गए इसलिए इसकी निष्पक्ष जांच होना बहुत जरूरी है। बता दें कि मामले की गंभीरता को देखते हुए सीवीसी की जांच, रिटायर्ड जज की निगरानी में होगी।

%d bloggers like this: